FIR दर्ज होने के 24 घंटे के अंदर ही पुलिस वेबसाइट पर डालने का आदेश

author image
Updated on 7 Sep, 2016 at 8:51 pm

Advertisement

देशभर में पुलिस सिस्टम में सुधार को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अहम आदेश दिया है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि देशभर के पुलिस थानों में दर्ज FIR को 24 घंटे के भीतर पुलिस या राज्य सरकार की वेबसाइट पर अपलोड किया जाए।

न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति सी नागप्पन की पीठ ने यूथ बार एसोसिएशन ऑफ इंडिया की याचिका की सुनवाई के दौरान यह अहम आदेश दिया है।

कोर्ट ने अपने इस आदेश में महिलाओं और बच्चों के यौन शोषण, आतंकवाद और विद्रोह जैसे संवेदनशील मामलों में प्राथमिकी अपलोड न करने की छूट दी है।

सिक्किम, मिजोरम, मेघालय जैसे सुदूर इलाकों और कश्मीर जैसे राज्यों की भौगोलिक स्थिति पर गौर करते हुए कोर्ट ने यहां के लिए यह अवधि 72 घंटे की रखी है।

अपने अहम आदेश में कोर्ट ने यह भी कहा कि यदि FIR अपलोड करने में कोई तकनीकी कारण से समस्या आती है, तो भी FIR को 48 घंटे में अपलोड किया जाना अनिवार्य होगा। जिन राज्यों में पुलिस की वेबसाइट नहीं है वहां राज्य सरकार की वेबसाइट पर FIR की कॉपी डाली जाएगी।



आपको बता दें कि इससे पहले वर्ष 2015 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश पुलिस को अपनी वेबसाइट पर FIR की कॉपी डालने का आदेश दिया था। वर्ष 2010 में दिल्ली हाई कोर्ट ने भी ऐसा ही आदेश दिया था।

अब सुप्रीम कोर्ट ने वेबसाइट पर FIR की कॉपी डालने का निर्देश देते हुए इसे देशभर में लागू करने का आदेश दिया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement