वर्जिनिटी खत्म होने के डर से सऊदी अरब में नहीं दी जा रही थी महिलाओं को ड्राइविंग की अनुमति !

Updated on 27 Sep, 2017 at 5:49 pm

Advertisement

सऊदी अरब में अब महिलाएं कार ड्राइव कर सकेंगी। अब तक पूरी दुनिया में सऊदी अरब ही एकमात्र ऐसा देश था जहां महिलाओं को कार ड्राइव करने का अधिकार नहीं था। लगातार चले विरोध, प्रदर्शन के बाद अब सऊदी अरब ने महिलाओं की ड्राइविंग से प्रतिबंध हटाने का फैसला किया है। यह आदेश जून 2018 से लागू हो जाएगा।

कट्टरपंथी इस्लामिक देश सऊदी अरब में ड्राइविंग को लेकर पहले से ही महिलाओं पर अघोषित पाबंदी रही थी। हालांकि, वर्ष 1990 में इसे एक कानूनी रूप प्रदान कर दिया गया। इसके बाद से ही यहां की महिलाओं में रोष व्याप्त था।

इस कानून के विरोध में महिलाओं ने इस कानून का विरोध करते हुए रियाध की सड़कों पर गाड़ियां ड्राइव की। कानून का विरोध करने वाली 47 महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया।

इस महिला की वजह से सऊदी अरब में गाड़ी ड्राइव कर सकेंगी महिलाएं

सउदी अरब की समाजिक कार्यकर्ता लुजैन अल हथलौल को कार चलाने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया था। उनकी गिरफ्तारी एक दिसम्बर 2014 को हुई थी। इन महिलाओं पर उस अदालत में मामला चलाने की इजाजत दी गई जो आतंकवादी मामलों को देखती है।


Advertisement

दुनिया भर में लुजैन की गिरप्तारी की आलोचना हुई। अंततः सऊदी अरब की जेल से 73 दिन बाद उन्हें रिहा कर दिया गया। माना जाता है कि लुजैन की गिरफ्तारी की वजह से उपजे असंतोष की वजह से भी सऊदी सरकार को झुकना पड़ा है।

इस घटना के बाद इस्लामिक कट्टरपंथी मौलवियों ने ड्राइविंग पर फतवा जारी कर दिया। कारण बताते हुए कहा गया कि ड्राइविंग की वजह से महिलाएं पुरुषों के करीब आएंगी और इससे उनकी वर्जनिटी प्रभावित होगी। वर्ष 2011 में सऊदी अरब सरकार ने कुछ इससे मिलती-जुलती रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट में कहा गया था कि अगर महिलाओं को अगर ड्राइविंग की इजाजत दी जाती है तो इससे उनकी वर्जिनिटी ख़त्म हो जाएगी।

हालांकि, महिलाओं का विरोध जारी रहा।

सोशल मीडिया की वजह से इस अभियान को गति मिली। महिलाओं को एकजुट करने के लिए फेसबुक पर पेज बने, ट्विटर पर भी मुहिम चली। यूट्यूब पर चैनल्स बनाए गए। महिलाओं के इस अभियान को पुरुषों का भी साथ मिलने लगा।

लगातार बढ़ते विरोध की वजह से अंततः सऊदी सरकार ने झुकते हुए महिलाओं को ड्राइविंग की इजाजत दे दी है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement