‘रामायण’ को सैन फ्रांसिस्को में किया जा रहा है फिर से ‘जीवित’

author image
Updated on 3 Nov, 2016 at 11:42 pm

Advertisement

हनुमान संजीवनी बूटी की तलाश में विशाल पर्वतों को पार करते हुए, अशोक वाटिका में हनुमान जी की सीता मैय्या से पहली भेंट, दस सिर वाला रावण और रावण की मृत्यु। जरा सोचिए कि ये सब किरदार एक ही मंच पर जीवंत हो जाए, तो कैसा अद्भुत नजारा होगा।

दरअसल, यह रमणीय नजारा सैन फ्रांसिस्को के एक म्यूजियम में देखने को मिल रहा है।

ramayan

रावण की मृत्यु उसके अंतिम संस्कार की तैयारी को दर्शाती यह तस्वीर thequint

जी हां, सैन फ्रांसिस्को में चल रही एक कला प्रदर्शनी में भारत के विख्यात महाकाव्य ‘रामायण’ को इसके मुख्य किरदारों राम, सीता, हनुमान और रावण के जरिए अलग-अलग तरीकों से दर्शकों के सामने रखा जा रहा है।

ramayana

एशियाई कला संग्रहालय thequint

एशियाई कला संग्रहालय द्वारा किए जा रहे इस आयोजन में चित्रकारी, मूर्तियां, नृत्य, नाटक और कठपुतलियों द्वारा रामायण को प्रदर्शित किया गया है।

dance

नृत्य के माध्यम से रामायण का सार बताती नृत्यांगनाएं Youtube


Advertisement

‘द रामा एपिक: हीरो हीरोइन एली एंड फोए’ नाम की इस प्रस्तुति में रामायण को आधुनिक व्याख्या के साथ दर्शाया गया है।

ramayana

राम-रावण सेना के मध्य युद्ध की व्याख्या करती यह तस्वीर mercurynews



एशियाई कला संग्रहालय ने इस विशाल राम महाकाव्य को विदेशी लोगों से परिचित कराने का एक बेहतरीन काम किया है। इसका लक्ष्य प्राचीन और समकालीन कला को एक साथ लाकर रामायण जैसे महाकाव्य से लोगों को अवगत कराना है।

संग्रहालय की हर गैलेरी में डांस, ड्रामा, चित्रकारी के जरिए रामायण की कहानी को चित्रित किया गया है। इसमें कहानी को अपहरण, युद्ध, अग्निपरीक्षा जैसे प्रकरणों के माध्यम से दर्शकों को आकर्षित करने की कोशिश की गई है।

ramayana

यह तस्वीर माता सीता के अपहरण, और गरुड़ देव द्वारा उन्हें बचाने के अथक प्रयास को दर्शाती है। mercurynews

यह इतना मनोरंजक है कि यहां आने वाले दर्शक यह भूल जाते हैं कि यह मात्रा एक कला है, न कि वास्तविकता।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement