अरबाज खान के IPL सट्टेबाजी में शामिल होने को लेकर सलमान खान ने पहली बार तोड़ी चुप्पी

author image
Updated on 4 Jul, 2018 at 4:21 pm

Advertisement

सलमान खान के भाई अरबाज खान का नाम आईपीएल सट्टेबाजी में आते ही बवाल मच गया था। पिछले महीने ठाणे पुलिस ने आईपीएल में सट्टेबाजी में शामिल होने के लिए एक्टर अरबाज खान को समन भेजा था। इस मामले पर अरबाज ने पुलिस को सहयोग किया था और वह अपने बयान दर्ज कराने के लिए पुलिस स्टेशन भी गए थे।

खबरों के मुताबिक, अरबाज ने अपने बयान में यह माना था कि वह सट्टेबाजी में शामिल थे। उन्होंने पुलिस स्टेशन पहुंचकर बयान भी दर्ज कराया था, जिसमें अरबाज ने पुलिस को बुकी के बारे में भी पूरी जानकारी दी थी।

 

 

इस पूरे मामले में पुलिस पूछताछ के दौरान अरबाज ने कहा था कि वह पिछले 5-6 साल से आईपीएल में सट्टा लगा रहे थे। सट्टा खेलना उनकी आदत बन चुकी थी। इसे लेकर उनके मलाइका के साथ कई झगड़े भी हुए। अरबाज ने ये भी कहा था कि उनके परिवार ने भी उन्हें ऐसा करने से रोका था।

 

जब यह पूरी घटना हुई तब सलमान अपनी फिल्म ‘रेस 3’ के प्रमोशन में बिजी थे। तब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सलमान ने इस मुद्दे पर किसी भी सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया था। हालांकि, अब सलमान खान ने पहली बार इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।


Advertisement

 

 

फिल्मफेयर के साथ बात करते हुए सलमान ने बताया कि अपने भाई अरबाज को सट्टेबाजी के मामले में पुलिस का समन मिलने के बाद उन्हें किन परिस्थितियों से गुजरना पड़ा है। उन्होंने कहाः

 

“जब अरबाज को आईपीएल सट्टेबाजी के मामले में समन मिला था तो मुझे ‘रेस 3’ की प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद रहना था। आप नहीं जता सकते कि आप किन परिस्थितियों से गुजर रहे हैं। आप किसी फिल्म का प्रमोशन करते हुए दुःखी नहीं दिख सकते। ऐसे मैं कोई यह भी कह सकता है कि देखो, इसके केस में फैसला आने वाला है और यह हंस रहा है। लेकिन यह मेरा काम है और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं, मेरा परिवार, मेरे दोस्त किस स्थिति से गुजर रहे हैं।”

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अरबाज ने बीते साल IPL मैचों में लगाए सट्टे से 2.75 करोड़ के नुकसान की बात स्वीकार की। जानकारी के अनुसार, अरबाज ने इस साल आईपीएल में 2.80 करोड़ रुपये का सट्टा लगाया था। उन्हें इस साल काफी नुकसान हुआ है। अरबाज ने पिछले साल 40 लाख रुपये का सट्टा लगाया था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement