राम रहीम के खिलाफ उतरा बनारस का संत समाज, फांसी की मांग

Updated on 30 Aug, 2017 at 9:23 am

Advertisement

राम रहीम को सीबीआई की विशेष अदालत ने सजा सुना दी है। उस पर नाबालिग से रेप का मामला चल रहा था। इस मामले में उसे 20 साल कैद की सजा दी गई है। बाबा का भेष धारण कर लोगों को गुमराह करने वाले राम रहीम पर पूरा देश चर्चा कर रहा है।

ऐसे ही समय धर्म नगरी बनारस में साधुओं के एक दल ने राम रहीम के लिए फांसी की सजा की मांग की है। साधुओं का दल विरोध प्रदर्शन करते हुए सड़क पर उतरा और रेपिस्ट राम रहीम के लिए कठोरतम दंड की मांग की। वे लोग हाथों में बोर्ड लेकर सड़क पर प्रदर्शन कर रहे थे और बाबा के भेष में आपराधिक कर्मों में लीन राम रहीम के लिए कैद की बजाय फांसी देने की मांग कर रहे थे।

यहां प्रदर्शन करने के लिए उतरे धुनि बाबा नामक एक साधु का कहना थाः


Advertisement

‘राम रहीम साधू न होकर अपराधी है। उस पर पैसे, पावर और हवस का नशा सवार है। वह ढोंगी है, क्योंकि एक सच्चा साधु दुनियादारी से दूर रहता है और सादा जीवन व्यतीत करता है। ऐसे व्यक्ति को कठोरतम दंड मिलना चाहिए।’

इससे पहले भी बाबाओं पर आपराधिक मामले चले, लेकिन ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है कि साधु दल विरोध प्रदर्शन करते हैं या सजा की मांग करते हैं। गौरतलब है कि लगातार बाबा लोगों के आपराधिक मामलों में फंसने से संत समाज की साख पर बट्टा लगा है।

ज्ञातव्य है कि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रेप को दो मामलों में सीबीआई की विशेष अदालत ने 10-10 साल की सजा सुनाई है। साथ ही कोर्ट ने 30 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माने की रकम में से दोनों पीड़ितों को 14-14 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा और 2 लाख रुपये कोर्ट के पास रहेंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement