सद्दाम हुसैन के इस तैरते महल को अब होटल बना दिया गया है, यहां देखिए तस्वीरें

Updated on 26 May, 2018 at 11:55 am

Advertisement

एक ऐसा वक्त था जब पश्चिम एशिया की राजनीति में इराक के सद्दाम हुसैन की तूती बोलती थी। सद्दाम के उत्थान और पतन की कहानी किसी परी-कथा सदृश है। सद्दाम ने एक दशक पहले पूरी दुनिको हिला कर रख दिया था, हालांकि, वह दुरावस्था को प्राप्त हुए।

 

सद्दाम के शासन के पतन के बाद उनके स्वर्णजरित सिंहासन से लेकर महलों की खबरें मीडिया की सुर्खियां बनीं थीं।

 


Advertisement

हालांकि, उनसे जुड़ी इतनी चीजें हैं कि चर्चा खत्म नहीं होती। अब चर्चा का विषय सद्दाम हुसैन का एक यॉट है, जो किसी आलीशान महल से कम नहीं था। उस याट में उसके लिए एक अलग कमरा था, जिसमें सिल्क के पर्दे लगे हुए थे। सद्दाम के इस यॉट के बाथरूम में भी सोने की कारीगरी का जमकर इस्तेमाल हुआ था। हालांकि, यह एक संयोग ही रहा कि वह खुद इस यॉट पर कभी आ नहीं सका।

 

 

इस यॉट का नाम ‘बसरा ब्रीज’ था, जिसे सद्दाम हुसैन ने 1981 में ख़ासकर अपने लिए बनाया था। 82 मीटर लंबे इस यॉट में ऐशोआराम की सभी व्यवस्था रही थी। सद्दाम के लिए इसमें एक प्राइवट क्वार्टर, डाइनिंग रूम, बेडरूम, महमानों को ठहरने के 17 कमरे, कर्मचारियों के लिए 18 कमरे और क्लिनिक तक बनाए गए थे।

 

इराक सरकार अब इस यॉट के उपयोग पर विचार कर रही है। ‘बसराह ब्रीज’ को एक होटल में बदला जा रहा है, जिसमें लोग आ कर रह सकेंगे। इसे विशेष रूप से दक्षिणी बंदरगाह के पायलटों के लिए तैयार किया जा रहा है।

 

 

यॉट के कैप्टन अब्दुल-ज़हर अब्दुल-मेहदी सलेह की मानें तो इसके रख-रखाव का ध्यान रखना जरूरी है। इंजन सुचारु रूप से काम कर रहे हैं और सभी कल-पुर्जे दुरुस्त हैं। यॉट को डेनमार्क की एक कंपनी ने बनाया था। दिलचस्प बात ये है कि इस यॉट के साथ ही सद्दाम हुसैन ने ‘अल-मंसुर’ नाम का एक और याट बनवाया था लेकिन इस पर भी वह सवार नहीं हो सके। ‘अल-मंसुर’ अमरीकी हवाई हमले का शिकार होकर डूब गई।

 

 

2006 में सद्दाम हुसैन की मृत्यु के बाद ईराक सरकार ने ‘बसराह ब्रीज’ को 30 मिलियन डॉलर में बेचना चाहती थी, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिला।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement