विदेशी बहू के समर्थन में आईं सुषमा स्वराज, ट्वीट पर मिली ससुराल में पनाह

author image
Updated on 11 Jul, 2016 at 12:47 pm

Advertisement

कई दिनों से ससुराल की चौखट पर धरने पर बैठी विदेशी बहू को आखिरकार ससुराल में जगह मिल गई है। आगरा के इन्द्रपुरी इलाके में इस घटना की जानकारी मिलने पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इस बहू की मदद करने के लिए कहा था।


Advertisement

विदेश मंत्री के इस ट्वीट के बाद राज्य प्रशासन हरकत में आया और बहू को ससुराल में जगह दिलाई। इस मामले में ससुराल वालों के खिलाफ पुलिस ने मामला भी दर्ज किया है।

सुषमा के ट्वीट का जवाब अखिलेश यादव ने कुछ इस तरह दिया।

गौरतलब है कि रूसी नागरिक ओल्गा एफिमेंकोव ने वर्ष 2011 में न्यू आगरा के इंद्रपुरी निवासी विक्रांत चंदेल के साथ शादी की थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक, ओल्गा का आरोप है कि वह एक माह पूर्व गोवा से ससुराल आई। सास निर्मला ने उसे पति और बेटी के साथ घर से निकाल दिया। काफी प्रयासों के बाद भी जब सास ने नहीं सुनी तो शुक्रवार को वह बेटी और पति के साथ घर की चौखट पर धरने पर बैठ गई।

ओल्गा के पति विक्रान्त ने भी मां पर दहेज की मांग के लिए ओल्गा सहित घर की अन्य बहुओं के साथ मारपीट का आरोप लगाया है।

वहीं, विक्रान्त की मां निर्मला चंदेल का कहना है कि वह सिर्फ एक कमरे के घर में रहती है और घर के बाकी का हिस्सा उन्होंने अपनी बेटी को स्कूल चलाने के लिए दिया है। यही नहीं, निर्मला का यह भी कहना है कि उन्होंने अब तक विक्रान्त और उसकी पत्नी ओल्गा को 11 लाख रुपए दे चुकी हैं।

ससुराल में जगह मिलने के बाद ओल्गा ने सुषमा स्वराज को धन्यवाद दिया है।

फिलहाल बहू को घर में जगह दिला दी गई है। साथ ही ओल्गा की सास सहित 4 लोगों पर दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement