लाइव टीवी पर महिला एंकर बोली वंदे मातरम, तो मुफ्ती ने कहा बेशर्म और बेहया

author image
Updated on 1 Aug, 2017 at 11:13 am

Advertisement

वंदे मातरम पर जारी विवादों की कड़ी में एक और विवाद जुड़ गया है।

सांकेतिक तस्वीर।

लाइव टीवी पर महिला एंकर को मुफ्ती की बदजुबानी झेलनी पड़ गई। जी न्यूज पर लाइव डिबेट के दौरान एंकर रुबिका लियाकत और इस्लामिक मुफ्ती एजाज अरशद कासमी के बीच तल्ख बहस हो गई। इसी बहस में शामिल अंबर जैदी को जब एआईएमआईएम प्रवक्ता ने अपशब्द कहे तो इसके जवाब में रुबिका ने कहा कि यह मदरसा नहीं है। इतना कहना था कि मुफ्ती कासमी ने रुबिका और अंबर पर व्यक्तिगत हमले शुरू कर दिए और अपशब्द कहे। मुफ्ती का पारा और चढ़ गया जब रुबिका ने वंदे मातरम और जय श्री राम कहा। हालांकि, मुफ्ती के ऐतराज जताने के बावजूद रुबिका ने वंदे मातरम जोर देकर कहा। बाद में मुफ्ती को डिबेट से हटा दिया गया।



यह विडियो आप यहां देख सकते हैं।

वंदे मातरम पर पिछले कुछ समय से विवाद लगातार चल रहा है। पिछले दिनों महाराष्ट्र विधानसभा में वंदेमातरम को लेकर हंगामा हुआ था। एमआई विधायक वारिस पठान ने वंदेमातरम गाने से किया इंकार कर दिया और उसके बाद एमआईएम और भाजपा विधायकों में झड़प की नौबत आ गई थी। तर्क ये दिए जा रहे हैं कि मुसलमान वंदे मातरम नहीं कह सकते, क्योंकि यह उनके मजहब के खिलाफ है।

इससे पहले मद्रास हाई कोर्ट ने तमिलनाडु के सभी स्कूलों में सप्ताह में दो बार वंदेमातरम गाना अनिवार्य कर दिया। सरकारी व निजी प्रतिष्ठान भी माह में एक बार इसका आयोजन करेंगे।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement