हैदराबाद में रह रहे इस रोहिंग्या मुस्लिम युवक के पास मिले आधार कार्ड सहित कई जाली पहचान पत्र

author image
Updated on 13 Sep, 2017 at 2:13 pm

Advertisement

भारत में अवैध तरीके से रह रहे एक मुस्लिम युवक को धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। युवक ने पासपोर्ट प्राप्त करने के लिए कई नकली पहचान पत्र बना रखे थे। वह भारतीय पासपोर्ट बनाकर दुबई जाने की फिराक में था। 20 वर्षीय मोहम्मद इस्माइल नाम के इस युवक ने आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड और यहां तक कि पैन कार्ड भी बनवा रखा था।

पुलिस ने बताया कि वह पिछले साल जून से हैदराबाद के पहाड़ी शरीफ इलाके में रह रहा था। आरोपी युवक ने पुलिस को बताया कि वह 2014 में बांग्लादेश से होते हुए भारत आया था।

इस्माइल के पास से कोलकाता की दमदम नगरपालिका से जारी जन्म प्रमाण पत्र भी बरामद हुआ है। वह कर्नाटक के बेलगाम में शिफ्ट होने से पहले एक साल दिल्ली में भी रहा।

राककोंडा पुलिस आयुक्त कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि आरोपी का जाली पहचान पत्र बनवाने में बेलगाम के ही किसी स्थानीय व्यक्ति ने ही मदद की। हैदराबाद में आरोपी युवक का मकान मालिक अब्दुल रशीद उसके पहचान पत्रों में पतों को बदलने में उसकी मदद कर रहा था।


Advertisement

भारतीय दंड संहिता और विदेशी कानून अधिनियम के तहत धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोप में युवक को गिरफ्त में लिया गया है।

गौरतलब है कि आंकड़ों के मुताबिक, भारत में करीब 14 हजार रोहिंग्या रह रहे हैं। ये संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग से पंजीकृत हैं। वहीं करीब 40 हजार रोहिंग्या गैरकानूनी रूप से रह रहे हैं। करीब 4,000 रोहिंग्या हैदराबाद में रहते हैं, जिनके पास शरणार्थी कार्ड हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement