रायन इंटरनेशनल कांड पर रेणुका शहाणे का यह फेसबुक पोस्ट सोचने पर मजबूर करता है

7:20 pm 12 Sep, 2017

गुरुग्राम स्थित रायन इंटरनेशनल स्कूल की घटना रोंगटे खड़ी कर देने वाली है। बच्चों के भविष्य और अच्छी शिक्षा के लिए माता-पिता क्या जतन नहीं करते, लेकिन परिणाम ऐसा हो तो अभिभावकों का चिंतित होना लाजमी है। 8 सितंबर को 8 साल के प्रद्युमन ठाकुर की हत्या स्कूल में जिस दरिंदगी से कर दी जाती है, वह बहुत सारे सवाल खड़े करती है। इस घटना को लेकर देशभर में प्रदर्शन हुए, दोषी को कड़ी सजा देने की मांग की गई। प्रदर्शनकारी अभिभावकों पर पुलिसिया बर्बरता भी चर्चा में रही।

स्कूल के बस कंडक्टर अशोक कुमार ने अपना जुर्म भी कुब़ूल लिया। अपराधी ने कुबूला कि वो प्रद्युमन को सेक्सुअली असॉल्ट करना चाहता था। प्रद्युमन ने विरोध किया तो जान गंवानी पड़ी। ऐसे मामले देश भर में बढे हैं और इसको लेकर कड़े कदम उठाए जाने आवश्यक हैं।

ये सब हो ही रहा था कि अभिनेत्री रेणुका शहाणे ने फ़ेसबुक पर अपनी चिंता जाहिर की और एक पोस्ट लिखा जो सभी को एक बार पढ़ ही लेना चाहिए।

रेणुका ने अपने पोस्ट में कहा हैः

“रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए 7 साल के मासूम की हत्या और एक दूसरे स्कूल में 3 साल की बच्ची के साथ बलात्कार की घटना ने मुझे सकते में डाल दिया है। हम अपने बच्चों को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं? अभिभावक बच्चों को स्कूल के भरोसे छोड़ते हैं कि उनका बच्चा स्कूल में सुरक्षित रहेगा। बड़े-बड़े स्कूलों में लगातार हो रही घटना से जाहिर है कि ये इंटरनेशनल स्कूल मोटी फ़ीस वसूलना जानते हैं, बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करना नहीं जानते।”

रेणुका के अनुसार गुरुग्राम में हुई घटना सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कई कमजोरियों को सामने लाती है।

  • 1. जो वॉशरूम बच्चे इस्तेमाल करते थे, वही वॉशरूम बस ड्राईवर और कंडक्टर इस्तेमाल करते थे।
    2. स्कूल के अंदर आरोपी आराम से चाकू लेकर घुस गया।
    3. वॉशरूम के बाहर कोई महिला कर्मचारी नहीं थी।
    4. उस बच्चे की चीखें भी किसी को सुनाई नहीं दी।
    5. स्कूल मैनेजमेंट ने मामले को रफ़ा-दफ़ा करने की कोशिश की।
    6. स्कूल की दीवार भी टूटी हुई थी, सुरक्षा व्यवस्था की ये बहुत बड़ी चूक है।

सुरक्षा में इतनी ढील देख कर ये सवाल उठता है कि स्कूल के ट्रस्टीज, मैनेजमेंट, प्रिंसिपल स्कूल चलाने लायक भी हैं या नहीं! इसके साथ ही अपने पोस्ट में रेणुका ने सरकार से मामले की तह तक जाकर समाधान खोजने की अपील की है।

रेणुका का फेसबुक पोस्ट आप यहां पढ़ सकते हैं।

आपके विचार