Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

जूते-चप्पल को घर से बाहर रखने का मामला धर्म नहीं विज्ञान से जुड़ा है!

Published on 27 September, 2018 at 12:38 pm By

आपके घर के बड़े भी आपको हमेशा घर के अंदर जूते-चप्पल लाने पर टोकते हैं और कहते हैं कि इसे बाहर ही उतारकर आया करो। आपको लगता है कि वो अंधविश्वास के कारण ऐसा कहते हैं, लेकिन नहीं। सच्चाई तो यह है कि जूते-चप्पलों को घर से बाहर रखने की सलाह सिर्फ धर्म में ही नहीं दी गई, बल्कि विज्ञान भी ऐसा ही कहता है।


Advertisement

 

 

हिंदू धर्म में घर को मंदिर माना गया है।

जाहिर है मंदिर के अंदर जूते-चप्पल पहनकर नहीं जा सकते, क्योंकि यह पवित्र और स्वच्छ जगह है और जूते-चप्पलों में गंदगी होती है। इसलिए मंदिर की तरह ही घर में प्रवेश से पहले भी जूते-चप्पल बाहर ही खोल दिए जाते हैं। हालांकि, इस धार्मिक कारण के अलावा ऐसा करने के पीछे वैज्ञानिक वजह भी है। दरअसल, विज्ञान के अनुसार, जूते-चप्पलों को आप कई जगह पहनकर जाते हैं, जिससे उसमें कई तरह के बैक्टीरिया और जर्म्स रहते हैं। जब आप जूते-चप्पलों को अंदर लाएंगे तो साथ ही बैक्टीरिया और जर्म्स भी घर में आएंगे और कई तरह की बीमारियां हो सकती है। इसलिए जूते-चप्पलों को घर के बाहर निकालकर इस समस्या से बचा सकता है।

 



 

जूते-चप्पल घर के बाहर ही उतारने चाहिए।

हालांकि, इस बात का ध्यान रखें कि मुख्य दरवाजे के ठीक सामने जूते-चप्पल न उतारें। वास्तु के अनुसार ऐसा करना शुभ नहीं माना जाता, ऐसा करने से लक्ष्मी मां नाराज़ हो जाती हैं। साथ ही आपको दिशा का भी ज्ञान होना चाहिए। यदि आप जूते-चप्पल या शू रैक रख रहे हैं तो उसे हमेशा घर की दक्षिण-पश्चिम या पश्चिम दिशा में ही रखें। उत्तर दिशा में इसे रखने की भूल न करें, इससे आपको पैसों की परेशानी हो सकती है, क्योंकि उत्तर दिशा धन के देवता कुबेर का निवास स्थान है। इसके अलावा पूर्वोत्तर या पूर्व दिशा में भी जूते-चप्पल नहीं रखने चाहिए।


Advertisement

 

 

किचन और पूजाघर में तो गलती से भी चप्पल पहनकर नहीं जाना चाहिए, साथ ही बेडरूम में भी जूते-चप्पल पहनकर जाना शुभ नहीं माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इससे कपल्स के रिश्तों पर बुरा असर पड़ता है।


Advertisement

दरअसल, जूते-चप्पल घर में नकारात्मकता ला सकते हैं। इसलिए इन्हें घर के किसी कोने या बाहर जगह है तो वहां शू-रैक बनवाकर रख दें। ध्यान रहे कि इन्हें खुले में फैलाकर भी नहीं रखना चाहिए।

Advertisement

नई कहानियां

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं


नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं

नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं


मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक

मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक


PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!

PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!


अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?

अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Religion

नेट पर पॉप्युलर