न फिल्में, न विज्ञापन, फिर भी जीती हैं रॉयल लाइफ! जानिए कैसे रेखा चलाती हैं अपना खर्चा

author image
Updated on 14 Mar, 2018 at 11:26 am

Advertisement

बीते जमाने की अदाकारा रेखा की खूबसूरती ऐसी है कि वह आज की अभिनेत्रियों को टक्कर देती हैं। अपने चार दशक के फ़िल्मी करियर में 63 साल की हो चुकी रेखा ने करीब 180 फिल्मों में अपनी अदायगी का जलवा बिखेरा है। भारतीय सिनेमा की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों में से एक, रेखा ने फिल्म इंडस्ट्री में अपना डेब्यू 1970 में आई फिल्म ‘सावन भादो’ से किया था।

 

 

एक समय था जब रेखा एक साल में 5 से 6 और कभी-कभी 8 फिल्में किया करती थीं, लेकिन पिछले दस सालों में, वह एक साल में केवल 1 या 2 फिल्मों में नजर आईं।

 

इसके अलावा उन्हें कई इवेंट्स और अवॉर्ड कार्यक्रमों में देखा जाता है। उन्होंने 2015 में रिलीज़ हुई ‘शमिताभ’ के बाद कोई फिल्म नहीं की है ।

 

 

लेकिन हाल फिलहाल में फिल्मों से दूरी बना लेने या फिल्में कम करने से उनकी लाइफस्टाइल पर कोई असर नहीं पड़ा है। आज भी वह उसी तरह से रॉयल जिंदगी जीती है जैसे 70 से 80 के दशक में जिया करती थीं। ऐसे में कई लोगों को हैरानी होती है कि न कोई फिल्म और न ही कोई विज्ञापन, फिर भी उन्होंने अपनी लैविश जिंदगी को कैसे बरकरार रखा हुआ है।

 

 

पत्रिका की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई के बांद्रा में अपने शानदार बंगले के अलावा, उनकी मुंबई और दक्षिण भारत के कुछ हिस्सों में कई संपत्तियां हैं, जो उन्होंने किराए पर दी हुई हैं, जहां से उन्हें अच्छी रकम मिलती है। इसके साथ ही अब कम ही बड़े पर्दे पर नजर आने वाली रेखा को कुछ फिल्में करने से ही अच्छी-खासी रकम का भुगतान किया जाता है।


Advertisement

 

 

रेखा राज्यसभा की भी सदस्य हैं और इसलिए राज्यसभा सदस्य होने के नाते उन्हें सैलरी और अन्य लाभ प्राप्त हैं। वह निजी कार्यक्रमों और किसी इवेंट या अवॉर्ड शो में आने के लिए भी चार्ज करती हैं।

 

 

इसके अलावा, रेखा जो डिजाइनर साड़ियां पहनती हैं वो उनके पुराने कलेक्शन में से होती हैं या किसी ने गिफ्ट की होती हैं। जहां अभिनेत्रियां कई पैसे अपने कपड़ों पर खर्च कर देती हैं, वहीं रेखा ऐसा नहीं करतीं।

 

 

आपको बता दें कि रेखा एक मध्यवर्गीय परिवार से हैं और ऐसे परिवार की आदत ही बचत करना होता है। अगर आप रेखा की लाइफ स्टाइल देखें तो आप समझ जाएंगे कि वो फिजूलखर्ची करना पसंद नहीं करती हैं।

 

वह अपने पैसों को लग्जरी, महंगी कारें खरीदने में खर्च नहीं करती। न ही औरों की तरह लाखों खर्च करके छुट्टियां मनाने बाहर विदेश जाती हैं। जैसा की कहा जाता है “बचाया गया पैसा, पैसा कमाने के बराबर है”, रेखा की बचत करने की सोच भी उनके खर्चों को मैनेज करने में एक बड़ी भूमिका निभाती हैं।

 

 

क्या आपको नहीं लगता है कि उन्होंने अपने अतीत और आज की कमाई को इतने अच्छी तरीके से मैनेज किया हुआ है कि उम्र के इस पड़ाव पर ज्यादा काम न करने के बावजूद भी वह शानदार जिंदगी जी रही हैं। अपने व्यूज हमारे साथ जरूर शेयर करें।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement