आखिर सुरक्षाकर्मी आंखों पर काला चश्मा क्यों पहनते हैं?

author image
Updated on 10 Aug, 2017 at 11:59 am

Advertisement

अाप ने नेताओं को भाषण देते कई बार देखा होगा अौर उनके पीछे खड़े हुए उनके सुरक्षाकर्मी को भी। ये सुरक्षाकर्मी हमेशा काला चश्मा पहने होते हैं। हम में से अधिकतर लोग सोचते होंगे कि यह सुरक्षाकर्मियों का स्टाइल स्टेटमेंट है, लेकिन यह आकलन गलत है। आइए जानते हैं कि आखिर सुरक्षाकर्मी काला चश्मा पहनकर अपनी ड्यूटी क्यों करते हैं।

1. दुश्मनों को भ्रम में डाल कर रखने की कोशिश

एक सुरक्षाकर्मी को हर समय चौकन्ना रहना पड़ता है। इसमें काला चश्मा की अहम भूमिका होती है, जिसकी मदद से वे दुश्मनों को भ्रम में डाल कर उन पर अपनी पैनी नज़र रख सकते हैं। सुरक्षाकर्मी अपनी नजरों को छुपाने के लिए काला चश्मा पहनते हैं, ताकि किसी को उनकी आंखों का अंदाजा न लग सके कि वह आखिर किस तरफ देख रही हैं।

2. अनचाहे हमलों में सुरक्षाकर्मी चीज़ों को देखने में सक्षम होते हैं


Advertisement

अचानक कोई दुर्घटना हो जाए। गोली चले या फिर हमले के दौरान धूल-धुआं उड़े है तो सबसे पहले आपकी आंखें कुछ देर के लिए स्वाभाविक रूप से बंद हो जाती हैं। एसी स्थिति में सुरक्षाकर्मी को अपनी आंखें खुली रखनी होती है। ग्लासेस के सहारे सुरक्षाकर्मी इन परिस्थितियों में भी चीज़ों को देखने में सक्षम होते हैं।

3. दिमाग की हर एक बात अांखों से पढ़ने में सक्षम

इन सुरक्षाकर्मियों को इस तरीके से प्रशिक्षित किया जाता है कि दुश्मन की शारीरिक प्रतिक्रिया या अांखों को पढ़ने में सक्षम होते है। सुरक्षाकर्मी काला चश्मा पहनकर लोगों के हर हरकत पर नजर बनाए रखते हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement