धोनी ने बताई कप्तानी छोड़ने की वजह, कहा- विराट कोहली की कप्‍तानी वाली टीम रचेगी इतिहास

author image
Updated on 13 Jan, 2017 at 5:49 pm

Advertisement

दुनिया के सबसे सफल कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी ने वनडे और टी-20 क्रिकेट में कप्तानी छोड़ने के बाद पहली बार मीडिया को संबोधित किया। इस  बातचीत में धोनी ने कप्तानी छोड़ने को लेकर कहा कि भारतीय टीम के बेहतर भविष्य के लिए ठीक यही था कि तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान हो।

धोनी बताते हैं कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीका सीरीज के दौरान ही बीसीसीआई को बता दिया था कि वह कप्तानी छोड़ना चाहते हैं।

धोनी ने बताया कि वह कप्तानी छोड़ने के लिए सही समय का इंतजार कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वह चाहते थे कि विराट कोहली टेस्ट टीम की कप्तानी के लिए पूरी तरह से तैयार हों और कप्तानी करते हुए खुद को सारे दबाव से ऊपर रखते हुए अपना परफॉर्मेंस दे, क्योंकि भारत में क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान होना उचित है।

धोनी ने कहाः



“मुझे लगता है कि सभी प्रारूपों में एक ही कप्तान होना चाहिए और मैं टेस्ट मैच नहीं खेल रहा इसलिए यह जरूरी था कि टीम की कमान विराट कोहली को सौंप दी जाए। वह टेस्ट क्रिकेट में टीम का नेतृत्व अच्छा कर रहे हैं। मैं इस इंतजार में था कि कोहली सब चीजों को हैंडल करने लग जाएं और वे अब कर भी रहे हैं। उन्हें यह ज़िम्मेदारी देने का सही वक्त यही था।”

वहीं, धोनी ने कोहली को सौंपी गई भारतीय टीम की कमान पर कहा कि कोहली हमेशा से ऐसा खिलाड़ी रहे हैं, जो हर वक़्त अपना बेहतरीन योगदान देना चाहते हैं। इसलिए कोहली आज इतने कामयाब हैं।

भारतीय टीम के हालिया प्रदर्शन पर धोनी ने कहा कि यह टीम सभी फॉर्मेट में जीतने की का माद्दा रखती है। किसी भी कप्‍तान या टीम के मुकाबले ज्‍यादा मैच जीतने में सक्षम है। यह टीम इतिहास रचेगी और कुछ ख़ास जरूर करके दिखाएगी।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement