धोनी के हेलमेट पर क्यों नहीं होता तिरंगा? वजह जानकर माही के लिए बढ़ जाएगा और भी सम्मान

author image
Updated on 2 Mar, 2018 at 5:16 pm

Advertisement

एक खिलाड़ी के लिए अपने देश का प्रतिनिधित्व करना दुनिया में सबसे गर्वित क्षणों में से एक है।

जहां कुछ खिलाड़ी देश प्रेम हेतु राष्ट्रीय ध्वज को हमेशा के लिए अपने शरीर पर गुदवा लेते हैं। वहीं देश का प्रतिनिधित्व कर रहे कुछ खिलाड़ियों की ड्रेस पर ही ध्वज बना हुआ होता है।

इस प्रकार कई क्रिकेट प्रशंसकों के लिए यह हैरानी की बात हो सकती है कि आखिरकार महेंद्र सिंह धोनी के हेलमेट पर तिरंगा क्यों नहीं होता?

 

 

धोनी क्रिकेट के सबसे सम्मानित खिलाड़ियों में से एक हैं और उन्होंने अपने शानदार खेल के बदौलत दुनिया भर में करोड़ों लोगों के दिल जीते हैं।

 

जहां विराट-रोहित समेत अन्य भारतीय क्रिकेटर्स अपने हेलमेट पर तिरंगा लगाकर खेलते हैं, लेकिन धोनी ऐसा नहीं करते। इसके पीछे की जो वजह है उसे जानकर आपको धोनी पर गर्व होगा।

 

 


Advertisement

दरअसल, धोनी एक विकेटकीपर हैं और जब वो फील्ड पर होते हैं तो उन्हें कई बार अपना हेलमेट उतारना पड़ता है और उसे पीछे मैदान पर रखना पड़ता है।

 

जमीन पर रखने की वजह से तिरंगे का अपमान ना हो, इसी वजह से वे अपने हेलमेट पर ध्वज नहीं लगाते हैं और उनके हेलमेट पर सिर्फ बीसीसीआई का लोगो ही दिखाई देता है।

 

 

नियम बताते हैं कि राष्‍ट्रीय ध्वज के साथ कोई भी सामान जमीन पर नहीं रखा जा सकता। इसी के चलते धोनी ने यह फैसला लिया।

 

 

 

हम सभी जानते हैं धोनी को भारतीय सेना से गहरा लगाव है और वे क्रिकेटर बनने से पहले आर्मी से ही जुड़ना चाहते थे। साल 2011 में इंडियन टेरिटोरियल आर्मी ने उन्हें लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद उपाधि भी दी थी। तब से लेकर वह हमेशा उस वर्दी और पद का सम्मान करते आए हैं।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement