RBI ने दी लोगों को राहत, 5 हजार के पुराने नोट जमा कराने की सीमा हटाई

author image
Updated on 21 Dec, 2016 at 4:30 pm

Advertisement

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) ने 5000 से ज्यादा के पुराने नोट जमा कराने के अपने दो दिन पहले जारी किए गए सर्कुलर को वापस ले लिया है। अब बैंकों में 5000 से ज्यादा के पुराने नोट जमा कराए जा सकते हैं। अब के.वाई.सी. वाले खातों में बिना किसी पूछताछ के कितनी भी रकम जमा कराई जा सकेगी।

इससे पहले 19 दिसंबर को RBI की ओर से जारी किए गए एक सर्कुलर में कहा गया था कि 5,000 रुपये से ज्यादा की राशि सिर्फ उन्हीं खातों में जमा हो पाएगी, जिसका केवाइसी जमा है। साथ ही उन्हें बैंक अधिकारियों को यह बताना होगा कि उन्होंने बंद हो चुके 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट अब तक बैंक में जमा क्यों नहीं कराए। जवाब संतोषजनक लगने पर ही राशि जमा करने की इजाजत दी जाएगी। साथ ही जवाब को ऑडिट के लिए रिकॉर्ड में दर्ज किया जाएगा।

5000 रुपए या इससे कम जमा कराने पर कोई शर्त नहीं थी लेकिन कहा गया था कि जैसे ही किसी खाते में  19 दिसंबर से 30 दिसंबर के बीच पुराने नोटों के माध्यम से जमा कुल राशि 5000 रुपए से अधिक हो जाएगी तो उस स्थिति में जमा कराने वाले को जवाब देना होगा।



RBI ने 19 दिसंबर को जारी किए गए नियम की समीक्षा के बाद, अधिसूचना जारी कर कहा है कि ये शर्तें के.वाई.सी. पूरा कर चुके खातों पर लागू नहीं होंगी।

माना जा रहा है कि लोगों की नाराजगी और विपक्षी दल के विरोध के बाद रिजर्व बैंक को नियम वापस लेना पड़ा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement