अश्विन ने की सचिन के उस रिकॉर्ड की बराबरी जिसे द्रविड़, कोहली, धोनी भी नहीं छू पाए

author image
Updated on 23 Jul, 2016 at 2:23 pm

Advertisement

एंटीगुआ में वेस्टइंडीज के खिलाफ चल रहे पहले पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन शुक्रवार को भारत के रविचंद्रन अश्विन ने वो कारनामा कर दिखाया, जो कोहली, रोहित शर्मा या धोनी नहीं कर सके।

अश्विन ने टेस्ट क्रिकेट अभी तक तीन शतक लगाए हैं और उन्होंने अपने तीनों टेस्ट शतक वेस्टइंडीज के खिलाफ ही लगाए हैं, जो अपनेआप में एक रिकॉर्ड बन गया है।

वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले खिलाड़ियों के लिस्ट में भारत के सचिन तेंडुलकर समेत दुनिया के अन्य बल्लेबाजों के साथ अश्विन का भी नाम शामिल हो गया है, जिन्होंने 3-3 शतक लगाए हैं।

अश्विन ने पहला टेस्ट शतक 2011 में मुंबई में वेस्टइंडीज के खिलाफ लगाया था, उन्होने 103 रन की बेजोड़ पारी खेली थी। अश्विन को अगले टेस्ट शतक के लिए दो वर्षों तक इंतजार करना पड़ा। उनका दूसरा शतक नवंबर 2013 में कोलकाता में बना, उन्होंने ईडन गार्डंस में वेस्टइंडीज के खिलाफ 124 रनों की पारी खेली। अश्विन ने अपना तीसरा टेस्ट 3 वर्षों के इंतजार के बाद एंटीगुआ के सर विवियन रिचर्ड्‍स स्टेडियम में बनाया, उन्होंने 113 रन बनाए।



अश्विन इसी के साथ के खिलाफ 3 शतक लगाने वाले दिग्गज भारतीय बल्लेबाजों के समूह में शामिल हो गए। आपको बता दें कि वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में शतक लगाने वाले दिग्गज भारतीय बल्लेबाज़ों में सचिन तेंडुलकर के अलावा पॉली उमरीगर, चंदू बोर्डे, दिलीप सरदेसाई, मोहिंदर अमरनाथ, कपिल देव, नवजोत सिंह सिद्धू के नाम शामिल हैं। अब इस सूची में अश्विन ने भी अब अपनी जगह बना ली है।

वैसे यदि वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा टेस्ट लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज की बात की जाए तो यह रिकॉर्ड लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर के नाम दर्ज है। उन्होंने 27 टेस्ट मैचों में 13 शतक लगाए हैं। दिलीप वेंगसरकर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 25 मैचों में वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 शतकीय पारियां खेली है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement