भारतीय मूल की राजगौरी ने आइंस्टीन-हॉकिंग जैसे वैज्ञानिकों को छोड़ा पीछे, दोनों से ज्यादा है IQ

author image
9:54 pm 7 May, 2017

Advertisement

भारतीय मूल की 12 साल की एक लड़की ने आईक्यू के मामले में महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिंग को पछाड़ दिया है।

ब्रिटेन में रहने वाली राजगौरी पवार का दिमाग और आईक्यू क्षमता आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिंग से भी तेज पाया गया है।

राजगौरी ने ब्रिटिश मेनसा IQ टेस्‍ट में 162 का स्‍कोर किया, जो 18 साल से क्रम उम्र के लिए सर्वाधिक है। राजगौरी का स्कोर आइंस्टीन और हॉकिंग से दो अंक अधिक है। स्‍टीफन हॉकिंग का ये स्‍कोर 160 रहा था।

legends

मेनसा टेस्ट में 140 अंक से अधिक पाने वाले को विशिष्ट प्रतिभाशाली माना जाता है।

अब राजगौरी को ब्रिटेन की प्रमुख संस्था ‘ब्रिटिश मेनसा आईक्यू सोसाइटी’ के सदस्य के रूप में भी शामिल किया गया है।


Advertisement

अपनी इस उपलब्धि पर राजगौरी ने कहा-

“मैं जो महसूस कर रही हूं उसे शब्‍दों में बयां नहीं कर सकती। मेरे लिए ये गर्व की बात कि मैं विदेशी धरती पर भारत का प्रतिनिधित्‍व कर रही हूं।”

राजगौरी के पिता डॉक्‍टर सूरजकुमार पवार पुणे के रहने वाले हैं, जो यूनिवर्सिटी ऑफ मेनचेस्‍टर में रिसर्च साइंटिस्‍ट हैं। अपनी बेटी की इस उपलब्धि पर उन्होंने कहा कि बिना अध्यापकों के सहयोग के राजगौरी के लिए यह उपलब्धि पाना संभव नहीं था।

भविष्य में राजगौरी फिजिक्‍स, एस्‍ट्रोनॉमी और इनवायरमेंट की पढ़ाई करना चाहती हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement