हल्दीघाटी युद्ध के विजेता रहे थे महाराणा प्रताप! अब बच्चे पढ़ रहे हैं नया इतिहास

Updated on 28 Sep, 2017 at 8:52 pm

Advertisement

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में बच्चों को नया इतिहास पढ़ाया जा रहा है। राजस्थान के 10वीं कक्षा के समाज विज्ञान की पुस्तक में महाराणा प्रताप को लेकर जो बात कही गई है, वो अब तक शायद ही कोई जानता होगा। जी हां, इस नए इतिहास में महाराणा प्रताप को 1576 के हल्दीघाटी युद्ध का विजेता बताया गया है।

अब तक हमने और आपने जो इतिहास पढ़ा है उसके मुताबिक हल्दीघाटी के युद्ध में महाराणा प्रताप अकबर से हार गए थे। हालांकि, राजस्थान सरकार ने पाठ्यक्रम में बदलाव करते हुए उन्हें विजेता घोषित कर दिया है।

इस मामले में राज्य के शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी का तर्क है कि इतिहास में किया गया यह बदलाव बिल्कुल सही है।

देवनानी कहते हैंः


Advertisement

“अब तक इतिहास ठीक से नहीं पढ़ाया जा रहा था, लेकिन अब उसे ठीक कर लिया गया है.। इतिहास में हमारे नायकों की भूमिका को कमज़ोर दिखाया गया है।”

वैसे आपको जानकर हैरानी होगी कि सिर्फ 10वीं की पाठ्य पुस्तक में ही ये बदलाव नहीं हुए हैं, बल्कि राजस्थान विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग ने भी एक किताब शामिल की है, जिसमें राजा महाराणा प्रताप को हल्दीघाटी युद्ध का विजेता बताया गया है।

वैसे ऐतिहासिक तथ्यों पर यह विवाद पहली बार नहीं है। इससे पहले आठवीं कक्षा की किताब से पंडित जवाहर लाल नेहरू का नाम हटा दिया गया दिया गया था और इसके पीछे तर्क दिया गया कि नेहरू जी का नाम 9वीं कक्षा की किताब में जब शामिल किया ही गया, तो इसे आठवीं में रखने की ज़रूरत नहीं है। इतना ही नहीं राजस्थान के शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी तो यहां तक कह चुके हैं कि देश के हर नायक को सभी किताबों में शामिल करना संभव नहीं है।

वैसे हमारे देश में सिर्फ किताबों में ही नहीं ऐसिहासिक स्थलों के नाम भी सरकारें अपने हिसाब से ही तय करती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement