राहुल गांधी के सुरक्षाकर्मी फंसे विवादों में, पायलट से मांगा था लाइसेन्स

author image
Updated on 17 Sep, 2016 at 1:11 pm

Advertisement

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के सुरक्षाकर्मी विवादों में फंस गए हैं। दरअसल, दिल्ली से वाराणसी की एक फ्लाइट के उड़ने से पहले राहुल गांधी के एसपीजी सुरक्षाकर्मियों ने न केवल पायलट से लाइसेन्स दिखाने की मांग की, बल्कि इंधन जांचने की भी मांग की।

इस वजह से इंडिगो की इस फ्लाइट ने करीब 45 मिनट देरी से उड़ान भरी। यह घटना 14 सितम्बर की है।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि जब इंडिगो की 6E 308 8.55 बजे सुबह दिल्ली से उड़ान भरने वाली थी, उस वक्त कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के एसपीजी सुरक्षाकर्मी पायलट्स के पास पहुंचे और उन्हें लाइसेन्स दिखाने को कहा। पाइलट्स को लगा कि एसपीजी सुरक्षाकर्मी को उनका लाइसेन्स चेक करने का अधिकार नहीं है।

अचनाक हुए इस वाकये से अचंभित पायलट्स ने एसपीजी सुरक्षाकर्मियों को एयरलाइन कंपनी से लाइसेन्स मांगने को कहा।


Advertisement

रिपोर्ट में एक वरिष्ठ पायलट के हवाले से बताया गया है कि संभवतः इस तरह की मांग इससे पहले कभी नहीं की गई थी।

दरअसल, अति महत्वपूर्ण यात्रियों के लिए एक प्रोटोकॉल होता है। इसके तहत एयर इंडिया और भारतीय वायु सेना अपने सबसे बेहतरीन पायलट की तैनाती करती है। लेकिन जब यही अति महत्वपूर्ण यात्री कॉमर्शियल फ्लाइट में सफर करते हैं, तब उनके सुरक्षाकर्मी पायलट के लाइसेन्स नहीं देखते।

इस मामले में अधिकारी खुले तौर पर कुछ कहने से बच रहे हैं, लेकिन माना जा रहा है कि यह मामला वाकई बेहद चौंकाने वाला है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement