चींटी अपने वजन से 20 गुना अधिक भार उठा सकती है, जानिए अन्य 22 दिलचस्प बातें

author image
Updated on 19 Apr, 2017 at 5:38 pm

Advertisement

चींटी को संसार का सबसे छोटा प्राणी में से एक माना जाता है। चींटियों की लगभग 12,000 से अधिक प्रजातियां संसार में पाई जाती हैं। बहुत अधिक ठंडे प्रदेशों को छोड़कर दुनिया के हर भाग में चींटियां पाई जाती हैं। इनकी अपनी कुछ विशेषताएं भी हैं। इनका अपना संसार अपने-आप में कम विचित्र नहीं है। अाज हम अापको बताने वाले है चींटियों से जुड़ी 22 दिलचस्प बातें।

1. चींटियों की लगभग 12,000 प्रजातियां संसार में पाई जाती हैं।

2. एक चींटी का अाकार करीब 2 से 7 मिलीमीटर तक के बीच होता है।


Advertisement

3. चींटी अपने वजन से 20 गुना अधिक भार उठा सकती है।

4. सबसे बड़ी चींटी कार्पेंटर चींटी होती है। इसके शरीर का अाकार करीब 2 सेंटीमीटर तक बड़ा होता है।

5. चींटी का दिमाग सबसे तेज होता है। इसके दिमाग में करीब 250,000 मस्तिष्क कोशिकाएं रहती हैं।

6. चींटियों की अलग-अलग प्रजातियां शाकाहारी, मांसाहारी या सर्वाहारी होती हैं।

7. चींटियों में एक रानी चींटी होती है, जो अपने पूरे जीवनकाल में हजारों अंडे देती है।

8. रानी चींटियों के पंख भी होते हैं।

9. रानी चींटियां करीब 30 साल तक जीवित रह सकती हैं।

10. काले और लाल रंग के अलावा चींटियां भूरी और पीली भी होती हैं।

11. चींटियों के दो पेट होते हैं। एक में वो अपने लिए खाना रखती हैं अौर दूसरे में अन्य चींटियों के लिए खाना रखती हैं।



12. चींटियों के कान नहीं होते है, वो ध्वनि को कंपन से महसूस करती हैं।

13. इस दुनिया पर जितना मनुष्यो का भार है, उतना ही चींटियों का भी भार है।

14. चींटी बहुत ही मेहनती और एकता से रहने वाली जीव होती है। चींटी सभी कार्यों को बांटकर करती है।

15. चींटियों के फेफड़े नहीं होते है। उनके शरीर में बहुत सूक्ष्म छिद्र होते हैं, जिनसे ऑक्सीजन अंदर जाती है।

16. चींटियां कभी सोती नहीं हैं।

17. चींटियां हमेशा एक लाइन में ही चलती हैं, क्योंकि चींटियों के शरीर से छोड़ी गई गंध के जरिये पीछे वाली चींटी उसके पीछे चलती है।

18. चींटियों के शरीर की बनावट अौर वजन एेसा है कि ऊंचाई से गिरने पर भी चोट नहीं लगती।

19. चींटियों में अगर युद्ध छिड़ जाएं तो ये मरते दम तक लड़ती हैं।

20. चींटियों की कई प्रजातियां खूंखार भी होती हैं, जो मध्य अफ्रीका में पाई जाती है।

21. भारत में आमतौर पर तीन-चार प्रजातियों की चींटियां घरों में मिलती हैं, जिसमें सबसे बड़ी प्रजाति वह होती है, जिसे हम चींटा कहते हैं। दरअसल, छोटी चींटी व बड़ा मकोड़ा, दोनों चीटियों की अलग-अलग प्रजातियां हैं।

22. बहुत अधिक ठंडे प्रदेशों को छोड़कर दुनिया के हर भाग में चींटियां पाई जाती हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement