पुरी जगन्नाथ मंदिर में ममता को पूजा नहीं करने देने का ऐलान, हिरासत में पुजारी

author image
Updated on 19 Apr, 2017 at 6:19 pm

Advertisement

पुरी स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर के एक सेवायत ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंदिर में आकर पूजा करने पर आपत्ति जताई है।

सोमनाथ कुंठिया नामक इस पुजारी का कहा है कि ममता बनर्जी ने गाय और भैंस का मांस खाने की अनुमति देकर हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। पुरी मंदिर एक हिंदू सनातन मंदिर है इसलिए मैंने उनके मंदिर में प्रवेश का विरोध करने का निर्णय लिया है।

तृणमूल कांग्रेस के विरोध के बाद अब पुजारी सोमनाथ को हिरासत में ले लिया गया है।

intoday
बाईं तरफ सोमना कुंठिया।

सोमनाथ कुंठिया श्री जगन्नाथ सेवायत सम्मिलानी के सचिव हैं। 12 सौ से अधिक पुजारी इस संस्था के अध्यक्ष हैं। कुंठिया का कहना है कि ममता बनर्जी ने मुस्लिम त्यौहारों के दौरान मस्जिद में कई बार नमाज अता की है। अगर उन्हें मंदिर में आने दिया गया तो यह भगवान जगन्नाथ की संस्कृति के खिलाफ होगा।



वहीं, दूसरी तरफ जगन्नाथ मंदिर के दायित्व प्राप्त पुजारी सोम महापात्र ने कहा कि ममता बनर्जी पुरी मंदिर में पहुंचेंगी तो मैं ‘खांडुआ’ देकर उनका स्वागत करूंगा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement