आपसे जुड़े हुए 10 मनोवैज्ञानिक तथ्य जो वाकई रोचक हैं।

author image
Updated on 20 Dec, 2015 at 4:11 pm

Advertisement

मानव शरीर से जुड़े कई ऐसे तथ्य हैं जो हम सब जानते है, लेकिन अभी भी उन सभी तथ्यों में से कई ऐसे हैं, जिंनके बारे में हमें नहीं पता। जिस तरह से हर व्यक्ति का अपना अलग स्वभाव होता है, उसी तरह से अपने आस-पास की चीज़ों को लेकर भी हर व्यक्ति की अपनी मानसिकता होती है। हर व्यक्ति अपने मनोविज्ञान के अनुसार व्यवहार करता है।

आज हम यहाँ कुछ ऐसे रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्यों का ज़िक्र कर रहे हैं, जिनसे आप खुद को और अपने परिजनों को और अच्छे से जानने में सहायक होंगे।

1. मनोविज्ञान कहते हैं कि अगर एक व्यक्ति कम बोलता है, लेकिन तेजी से बोलता है- इसका मतलब है कि वह एक गोपनीय व्यक्तित्व वाला शख्स है, जो ज़्यादातर बातें अपने तक ही रखता है।

2. अगर कोई छोटी-छोटी बात पर गुस्सा हो जाता है, इसका मतलब उसे आपके साथ और प्यार की जरूरत है।

angry person needs more love

exitintentpopup


Advertisement

3. अगर किसी पुरुष को किसी की बात से तकलीफ पहुंची हो, तो वो उस बात को भूल जाते हैं, लेकिन माफ़ नहीं करते। लेकिन अगर एक महिला को किसी की बात से तकलीफ पहुंची हो, तो वो माफ़ कर देती है, लेकिन भूलती नहीं।

4. लोग वास्तविक लोगों की तुलना में यादों को अधिक महत्व देते हैं।

5. अगर कोई छोटी-छोटी बात पर रोता है, इसका मतलब है कि वह नरम दिल स्वभाव का है।

6. लोग अपने प्रियजनों के सामने तब फ़ोन की स्क्रीन को नीचे की तरफ रखते है, तब उनके मन में खोट हो सकता है।

7. अगर एक व्यक्ति बहुत सोता है तो इसका मतलब है कि वह अंदर ही अंदर घुट रहा है और किसी बात से दुःखी है।

8. अगर कोई रो नहीं सकता, इसका मतलब कि वो इंसान भावनात्मक रूप से कमज़ोर है। रोना एक व्यक्ति को कमज़ोर नहीं, बल्कि भावनात्मक रूप से मज़बूत बनाता है।

9. अगर कोई असामान्य तरीके से खाना खाता है इसका मतलब है कि वह किसी बात को लेकर बहुत चिंतित है।

10. अगर कोई ज़्यादा ही हँसता है। बेवकूफी भरी बातों पर भी। तो वह इंसान अंदर से अकेला है।

too much laugh sign of loneliness

assets


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement