महारानी एलिजाबेथ की शक्तियां आज भी हैं बरकरार, चाहें तो सरकारों को कर सकती हैं बर्खास्त

8:54 am 11 Oct, 2018

Advertisement

ये तो आप जानते ही होंगे कि कभी पूरी दुनिया में ब्रिटेन का सिक्का चलता था। यहां तक कि कहा जाता था कि ब्रिटिश साम्राज्य का सूरज कभी अस्त नहीं होता। आज भले ही वो बात नहीं रही हो, लेकिन ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के पास ऐसी शक्तियां मौजूद हैं, जो उन्हें ख़ास बनाता है। यूं कहें कि वे क़ानून से भी ऊपर हैं। महारानी एलिजाबेथ सबसे लंबे समय तक सिंहासन पर विराजमान रहने वाली शासक हैं। यहां कुछ ऐसे क़ानून का जिक्र कर रहे हैं जो महारानी पर लागू नहीं होते।

यूके में हंस खाने और डॉल्फिन पालने पर रोक है, लेकिन महारानी चाहें तो ऐसा कर सकती हैं। कहा जाता है कि प्रसिद्ध नदी टेम्स में महारानी की पालतू डॉल्फिन और व्हेल मछलियां मिलती हैं। वहीं, महारानी को कार चलाने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस की भी जरूरत नहीं पड़ती। उन पर स्पीड लिमिट भी लागू नहीं होता। इतना ही नहीं, महारानी को किसी भी देश की यात्रा करने के लिए पासपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ती है।

शाही परिवार के निजी मामलों में मीडिया दखल नहीं दे सकती है। वे चाहें तो मीडिया को कुछ भी नहीं बता सकती हैं लेकिन ब्रिटेन के आम बाशिंदों को जरूरत पड़ने पर मीडिया को जानकारी देने की बाध्यता है। गौरतलब है कि ब्रिटेन में सबको टैक्स भरना होता है, लेकिन महारानी पर ये लागू नहीं होता। हालांकि, 1992 से महारानी अपनी स्वेच्छा से टैक्स का भुगतान कर रही हैं।


Advertisement

महारानी युद्ध की घोषणा लेकर क़ानून अपने हाथ में लेने के लिए स्वतंत्र हैं। दिलचस्प बात ये है कि महारानी के पास ऑस्ट्रेलिया और कनाडा की सरकारों को बर्खास्त करने की भी शक्ति है। बता दें कि 1975 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री को बर्खास्त किया था। महारानी पर कोई भी मुकदमा नहीं चलाया जा सकता है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि इनके पास भारी शक्तियां हैं।

ये अलग बात है कि महारानी अपनी शक्तियों का दुरुपयोग नहीं करतीं!

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement