इस गरीब बुजुर्ग के बैंक खाते में पड़े थे 69 हजार करोड़, इन्कम टैक्स विभाग ने भेज दिया नोटिस

author image
Updated on 5 Jan, 2016 at 5:27 pm

Advertisement

मध्य प्रदेश के हरदा जिले में रहने वाले 66 वर्षीय घासीराम बिल्लोरे को एक दिन अचानक पता चला कि उनके बैंक अकाउन्ट में पिछले 1 साल से 69 हजार करोड़ रुपए पड़े थे। यह अलग बात है कि उन्हें इसके बारे में पता ही नहीं था।

उन्हें इस बारे में तब जानकारी मिली जब इन्कम टैक्स विभाग ने उन्हें नोटिस भेज दिया। संपत्ति के नाम पर टीन की छत पर वाला छोटा सा मकान और 4 एकड़ जमीन की मिल्कियत रखने वाले घासीराम कुछ दिनों के लिए भारत के टॉप रइसों में शुमार हो गए थे।

यह है मामला


Advertisement

यह अब भी रहस्य है कि घासीराम के बैंक अकाउन्ट में में रकम आई कहां से। स्टेट बैंक ऑफ इन्डिया इसे तकनीकी त्रुटि बता रहा है। कभी रेलवे में में गेटमैन के पद पर काम करने वाले घासीराम को महीने में 10,500 रुपए पेंशन मिलती है। पिछले साल 27 दिसम्बर को उन्हें इन्कम टैक्स विभाग का नोटिस मिला, जिसमें उन्हें बैंक अकाउन्ट 10787534782 में मौजूद 69291069442629.66 करोड़ रुपए के बारे में जानकारी मांगी गई थी।

दरअसल, उनके अकाउन्ट में यह रकम वर्ष 2015 की 3 मार्च को जमा की गई थी। घासीराम कहते हैं कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि उनके अकाउन्ट में पैसे कहां से आए। आयकर विभाग का नोटिस मिलने के बाद वह बैंक गए तो वहां बैंक वाले भी इसे देखकर चौंके। हालांकि कुछ समय बाद उनके अकाउन्ट से पैसे गायब हो गए और बच गए सिर्फ 2714 रुपए।

भारत के सातवें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए थे घासीराम बिल्लोरे

घासीराम बिल्लोरे करीब साल भर के लिए भारत के सातवें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए थे। कुछ दिन के लिए ही सही, उनकी संपत्ति अडाणी और बिड़ला घरानों से अधिक हो गई थी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement