योग-मय हुआ भारत, पीएम मोदी ने 30 हजार लोगों के साथ किया योगाभ्यास

author image
Updated on 21 Jun, 2016 at 12:21 pm

Advertisement

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चंडीगढ़ में 30 हजार लोगों के साथ योगाभ्यास किया। शहर के कैपिटल कॉम्प्लेक्स में योगाभ्यास से पहले अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि योग आस्तिकों के लिए भी है, और नास्तिकों के लिए भी। दुनिया में कहीं भी जीरो बजट पर हेल्थ अश्योरेंस नहीं होता। योग जीरो बजट से हेल्थ की गारंटी देने वाला विज्ञान है।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में योग की महत्ता पर बल देते हुए कहा कि यह महज क्रिया नहीं, बल्कि‍ शरीर को स्वस्थ्य रखने की विधि है। उन्होंने लोगों से कहा कि योग को मोबाइल की तरह अपने जीवन में शामिल कर लें।

प्रधानमंत्री की मौजूदगी में योग की 20 मुद्राएं की गई। इस दौरान योग साधकों ने योग मुद्राओं के साथ-साथ उनसे दूर होने वाली बीमारियों के बारे में भी लोगों को बताया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी के साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गवर्नर कप्तान सिंह सोलंकी भी नजर आए।

योग प्रशिक्षक की नजर आए प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री मोदी इस कार्यक्रम में योग प्रशिक्षक की तरह नजर आए। लोगों को संबोधित करने के बाद पीएम ने योग साधकों से मुलाकात की। उन्होंने समारोह स्थल पर मौजूद दिव्यांगों, व्हील चेयर पर बैठकर योग कर रहे पूर्व सैनिकों के पास जाकर उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कार्यक्रम में भाग लरे रहीं छोटी-छोटी बच्चियों से भी मुलाकात की और योग में उनकी दिलचस्पी की सराहना की।

सिर्फ 30 हजार लोगों को मिली प्रवेश की अनुमति


Advertisement

कैपिटल कॉम्प्लेक्स में प्रधानमंत्री मोदी के साथ योगाभ्यास के लिए 96 हजार 300 लोगों ने अपना पंजीकरण करवाया था। लेकिन आयोजन स्थल के आकार को देखते हुए 30 हजार लोगों को इसकी अनुमति दी गई।

इस कार्यक्रम की शुरुआत सुबह 6.30 बजे शुरू हुई थी। यहां करीब 40 एलईडी स्क्रीन लगाए गए थे। इसके अलावा शहर भर में 100 अलग-अलग स्थानों पर एलईडी स्क्रीन लगाए गए थे।

कैपिटल कॉम्प्लेक्स को 8 ब्लॉकों में विभाजित किया गया था, ताकि कार्यक्रम का सफल संचालन किया जा सके।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement