पीएम मोदी: नफरत और हिंसा के प्रचारक समाज के लिए बड़ा खतरा

author image
Updated on 12 Jul, 2016 at 3:22 pm

Advertisement

केन्‍या के नौरोबी विश्वविद्यालय में छात्रों को संबोधित करते हुए मोदी ने घृणा व आतंक मुक्त विश्व की वकालत की। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा: “घृणा और हिंसा की बात करने वाले हमारे समाज के तानेबाने के समक्ष खतरा उत्पन्न कर रहे है।”

प्रधानमंत्री की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब सरकार पीस टीवी में  होने वाले जाकिर नाइक के भाषणों की जांच करने जा रही है।

Modi

 

जाकिर नाइक को निशाना बनाते हुए प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं से कट्टरपंथी विचारधारा के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने की बात कही।

कट्टरपंथ का मुकाबला करने की जरूरत पर जोर दते हुए  उन्होंने कहा: “कट्टरपंथी विचारधारा का मुकाबला करने के लिए युवा एक जवाबी अवधारणा तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।”

पीएम मोदी ने पाकिस्तान को भी आड़े हाथों लिया। परोक्ष रूप से आतंकवाद पर हमला करते हुए पीएम ने कहा कि जो लोग आतंकियों को शरण दे रहे हैं और उसका इस्तेमाल राजनीतिक हथियार के तौर पर कर रहे है, उन लोगों की समान रूप से निंदा करनी चाहिए।

इस बीच, शिवसेना ने नाइक की गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा कि नाइक भारत में एक विभाजनकारी भूमिका निभा रहा है।

Zakir Naik

शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में कहा गया है:


Advertisement

“जाकिर नाइक इस देश के लिए एक विभाजनकारी भूमिका निभा रहा है। इस समय वह देश के बाहर है। जैसे ही वह भारत सरजमीं पर कदम रखे उसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए।”

शिवसेना ने इसके साथ जाकिर नाइक के कामों की तुलना जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर की गतिविधियों से की।

विवादास्पद प्रचारक नाइक के लेखनों-भाषणों और सामाजिक मीडिया खातों की जांच की जा रही है।

Zakir Naik

 

जिस चैनल पर नाइक का कार्यक्रम प्रसारित होता था बांग्‍लादेश ने उस पर पाबंदी लगा दी है। दुबई से प्रसारित होने वाले इस चैनल पर भारत में वर्षों से पाबंदी लगी हुई है, लेकिन कई केबल ऑपरेटर इसे गैरकानूनी तरीके से दिखाते हैं। अब ऐसे चैनलों को कड़ी सजा की चेतावनी दी गई है।

गौरतलब है कि नाइक पर आरोप है कि  ढाका में हुए आतंकी हमले में शामिल कुछ आतंकी जाकिर नाइक के धर्म पर दिए उपदेशों से प्रभावित थे।

देखिए किस तरह इस वीडियो में नाइक खुले तौर पर आत्मघाती बमबारी को बढ़ावा दे रहे हैंः

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement