‘हिम्‍मत है तो गरीबी और बेरोजगारी से लड़ो, देखो कौन जीतता है’

author image
Updated on 25 Sep, 2016 at 12:05 pm

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के कोझिकोड में भाजपा के सम्मेलन के मंच से पाकिस्तान को गरीबी और बेरोजगारी से लड़ने की चुनौती दी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहाः


Advertisement

“मैं इस चुनौती को स्वीकार करता हूं। मैं बताना चाहता हूं कि भारत, पाकिस्तान के साथ लड़ना चाहता है। अगर आपमें साहस है तब क्यों नहीं गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा को समाप्त करने के लिए लड़ते हैं। तब देखें कि कौन सा देश जीतता है… भारत या पाकिस्तान। पाकिस्तान की जनता का आह्वान करता हूं कि आओ नवजात शिशुओं को बचाने की लड़ाई लड़े।”

पाकिस्तान के हुक्मरानों पर करारा प्रहार करते हुए मोदी ने कहा कि पाकिस्तान की जनता को अपने नेताओं से पूछना चाहिए कि एक साथ आजादी प्राप्त करने के बाद भी क्या कारण है कि भारत साफ्टवेयर का निर्यात कर रहा है और पाकिस्तान आतंकवाद का निर्यात कर रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार हिन्दुस्तान से 1000 साल तक लड़ने की बात करती है, लेकिन वे कहां हैं। आज दिल्ली में ऐसी सरकार बैठी है जो इस चुनौती को स्वीकार करती है। साथ ही प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भारत आतंकवाद के समक्ष कभी नहीं झुका है और न ही भविष्य में झुकेगा।

गौरतलब है प्रधानमंत्री मोदी कोझिकोड में भाजपा सम्मेलन के दौरान जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना के कैम्प पर हुए पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादी हमले के बाद पहली बार अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement