दिल्ली में प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल पर लगेगा 5 हजार रुपये का जुर्माना

Updated on 13 Aug, 2017 at 2:27 pm

Advertisement

अगर आप दिल्ली में हैं और सब्जी ले रहे हैं तो खबरदार, प्लास्टिक बैग में भूलकर भी ऐसा न करें। नैशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल ने प्लास्टिक की थैलियों के इस्तेमाल पर अंतरिम प्रतिबंध लगा दिया है। ऐसा करते हुए पकड़े जाने पर 5000 रुपये का जुर्माना देना पड़ सकता है।

नैशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल ने पूरी राष्ट्रीय राजधानी में 50 माइक्रॉन से भी कम मोटाई वाले अक्षरणीय प्लास्टिक की थैलियों के इस्तेमाल पर अंतरिम प्रतिबंध लगा दिया। एनजीटी अध्यक्ष न्यायमूर्ति स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि अगर किसी व्यक्ति के पास से इस तरह के प्रतिबंधित प्लास्टिक बरामद होते हैं तो उसे 5,000 रुपये की पर्यावरण क्षतिपूर्ति देनी होगी।

ibnlive


Advertisement

ट्राइब्यूनल ने दिल्ली सरकार को भी आज से एक हफ्ते के अंदर प्लास्टिक बैग्स के ऐसे भंडारों को जब्त करने का निर्देश दिया है। साथ ही दिल्ली सरकार और दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति को किसी वरिष्ठ अधिकारी के माध्यम से एक हलफनामा दायर करने को कहा है। ट्राइब्यूनल ने शहर में कचरा प्रबंधन विशेषकर प्लास्टिक के संदर्भ में निर्देशों को कैसे लागू किया जा रहा है, इस बारे में सूचित करने के लिये कहा है।

गौरतलतब है कि ग्रीन पैनल ने दिल्ली एवं एनसीआर में डिस्पोजबल प्लास्टिक के इस्तेमाल पर एक जनवरी 2017 से प्रतिबंध लगा दिया था। दिल्ली सरकार को डम्प किए हुए कचरे को भी कम करने का निर्देश जारी किया गया था।

यही वजह है कि अगर आप दिल्ली में हैं और प्लास्टिक बैग्स का इस्तेमाल कर रहे हैं तो अब बचें। इनका इस्तेमाल महंगा पड़ सकता है। ट्राइब्यूनल लोगों को जागरूक करने को लेकर सचेत है। पर्यावरण की रक्षा लोगों को जागरूक बनाकर ही किया जा सकता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement