गोरखपुर के अस्पताल में पिछले 36 घंटे में 30 बच्चों की मौत

author image
Updated on 11 Aug, 2017 at 8:52 pm

Advertisement

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पिछले 36 घंटे में 30 बच्चों के मौत की खबर है। दैनिक भास्कर की रिपोर्ट में कहा गया है कि ये बच्चे जानलेवा दिमागी ज्वर इंसेफेलाइटिस का शिकार होकर जान गंवा बैठे।


Advertisement

वहीं, अन्य मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि इन बच्चों की मौत ऑक्सीजन सप्लाई के ठप होने की वजह से हुई है। फिलहाल इस मामले में विरोधाभास जारी है।

इस बीच, जिलाधिकारी राजीव रौतेला ने इन मौतों के संदर्भ में बयान जारी किया है।



बताया गया है कि इस हाहाकारी घटना में अपनी जान गंवाने वाले 17 बच्चे इंसेफेलाइटिस वार्ड में भर्ती थे, जबकि 13 बच्चे एनएनयू वार्ड में।

इंसेफ्लाइटिस नाम की बीमारी वास्तव में एक वायरल इन्फेक्शन है। गोरखपुर और आसपास के इलाकों में लोग इसे दिमागी बुखार कहते हैं। इसके शिकार अधिकतर बच्चे ही होते हैं। दैनिक भास्कर की रिपोर्ट में यह साफ किया गया है कि 7 बच्चों की मौत इंसेफ्लाइटिस से हुई है। जबकि 23 बच्चों की मौत दूसरी वजहों से होने का दावा किया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि गुरुवार की रात से यहां ऑक्सीजन की सप्लाई ठप थी। कहा जा रहा है कि ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली फर्म ने बकाया 69 लाख रुपए का भुगतान न होने की वजह से सप्लाई रोक दी थी। धीरे-धीरे सभी सिलेंडर खत्म हो गए।

इस घटना के बाद अफरातफरी का माहौल है।

अपडेटः उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा है कि ये मौतें ऑक्सीजन के ठप होने से नहीं हुई हैं। सरकार की तरफ से इस खबर को भ्रामक बताया गया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement