पेरिस जलवायु समझौता लागू, भारत निभाएगा अहम योगदान

author image
Updated on 4 Nov, 2016 at 1:10 pm

Advertisement

पर्यावरण सुधार पर वर्ष 2015  में हुआ पेरिस जलवायु समझौता आज से लागू हो जाएगा। इस समझौते के तहत जलवायु परिवर्तन से जुड़ी चुनौतियों से मजबूती से निपटने की दिशा में कार्य किया जाएगा।

दुनिया में होने वाले कुल कार्बन उत्सर्जन का 4.1 प्रतिशत भारत करता है। सरकार ने महात्मा गांधी की जयंती के दिन यानी कि 2 अक्टूबर को समझौते पर दस्तखत किए थे। इसके साथ ही भारत जलवायु परिवर्तन पर अनुमोदन संबंधी अपना दस्तावेज जमा कराने वाला 62वां देश बन गया।


Advertisement

गौरतलब है कि इस समझौते को अमल में लाने के लिए दुनियाभर में 55 प्रतिशत वैश्विक ग्रीनहाउस उत्सर्जन के लिए जिम्मेदार कम से कम 55 देशों के हस्ताक्षर जरूरी थे।

ऐसे में पेरिस सम्मलेन में सम्मिलित 197 देश में से 94 ने इस समझौते पर अपनी मुहर लगाई और इस अहम समझौते के लागू होने का मार्ग प्रशस्त हुआ।

इस ऐतिहासिक मौके पर भारत सहित कई देश अपनी महत्वपूर्ण इमारतों और स्मारकों पर ‘वी डिड इट’ यानि ‘हमने कर दिखाया’ का नारा लगाएंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement