Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

चीन की कैद में हैं पाकिस्तानी पतियों की बेगमें, दोस्ती में पड़ रही है दरार!

Published on 27 September, 2018 at 12:59 pm By

चीन पूरी दुनिया में अपने यहां होने वाले मानवाधिकार हनन को लेकर बदनाम है। हाल ही में चीन का एक और खौफनाक चेहरा सामने आया है, जिसके बाद चीन और पाकिस्तान की दोस्ती में दरार पड़ती दिख रही है।


Advertisement

 

खबरों के मुताबिक, पाकिस्तानी उइगर मुसलमान बेगमों को, चीन के इकलौते मुस्लिम राज्य शिनजियांग प्रांत में बंधक बना लिया गया है। अब इनकी रिहाई को लेकर पाकिस्तानी पति दूतावास और नई नवेली इमरान सरकार से अपनी बेगमों और बच्चों को सुरक्षित वापस लाने की गुहार लगा रहे हैं।

 

 

हाल ही में कुछ देशों और यूएन की मानवाधिकार संस्था ने अपनी रिपोर्ट में यह खुलासा किया था कि चीन के शिनजियांग प्रांत में रह रहे उइगर मुसलमानों के धार्मिक अधिकारों पर लगातार प्रतिबंध थोप रहा है और रि-एजुकेशन सेंटर की आड़ में इन्हें देशभक्त बनाने के नाम पर इनका माइंड वॉश किया जा रहा है।

बहरहाल, पाकिस्तानी नागरिक मिर्जा इमरान बेग ने बतायाः

“मेरी पत्नी चीनी मूल की उइगर मुसलमान हैं। मेरी बेगम मलिका मामिती 2017 मई में चीन गई थीं और तब से अब तक वापस नहीं लौटी हैं। मैं पत्नी और बच्चों से मिलने के लिए तरस रहा हूं और दूतावास के चक्कर काट रहा हूं। मुझे तो ऐसी खबर भी मिली है कि मेरी पत्नी को भी जबरन विचार परिवर्तन के लिए कैंप में भेजा गया है।”



 

 

इस अभियान में चीन ने देश विरोधी गतिविधियों के नाम पर 10 लाख से ज्यादा उइगर मुस्लिमों को खुफिया सामूहिक हिरासत शिविरों में बंदी बना रखा है।

मियां शाहिद इलियास भी उन भुक्तभोगी पतियों में से एक हैं, जिनकी बेगम शिनजियांग के शिविर में क़ैद हैं। उनकी बेगम पिछले साल के अप्रैल से वापस नही लौटी हैं। इलियास बताते हैंः

“इस वक्त मेरी जानकारी में कम से कम 38 ऐसे पाकिस्तानी हैं, जिनकी पत्नी चीन के शिनजियांग प्रांत से वापस नहीं लौट रही हैं। उन्हें जबरन वहां बंधक बना लिया गया है और परिवार के पास लौटने नहीं दिया जा रहा।”

 

 

रिपोर्ट्स के मुताबिक. चीन इन महिलाओं और उइगर मुसलमानों को अपना नागरिक मानता है और उनके पाकिस्तान जाने पर प्रतिबंध भी लगाता रहा है। वहीं, चीन में गायब होती अपनी पत्नियों की वजह से पाकिस्तानी व्यापारी खासे परेशान हैं और उनके साथ किसी भी तरह से संपर्क न होने से उनकी परेशानियां बढ़ती जा रही है।

 


Advertisement

आपको बता दें चीन के शिनजियांग प्रांत में उइगर मुसलमानों के ऊपर सरकार और प्रशासन की सख्ती की खबरें आती रहती हैं। 2014 में शिनजियांग की सरकार ने रमजान के महीने में मुस्लिम कर्मचारियों के रोजा रखने और मुस्लिम नागरिकों के दाढ़ी बढ़ाने पर पाबंदी लगा दी थी। 2014 में ही राष्ट्रपति जिनपिंग के आदेश पर यहां की कई मस्जिदें और मदसों के भवन ढहा दिए गए। इसके अलावा विचार परिवर्तन के नाम पर इन शिविरों में मुस्लिमों को जबरन पार्टी की सदस्यता के लिए वफादारी की कसम खिलाई जाती है।

Advertisement

नई कहानियां

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं

सुहागरात से जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जानते हैं


नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं

नेहा कक्कड़ के ये बेहतरीन गाने हर मूड को सूट करते हैं


मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक

मलिंगा के इस नो बॉल को लेकर ट्विटर पर बवाल, अंपायर से हुई गलती से बड़ी मिस्टेक


PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!

PUBG पर लगाम लगाने की तैयारी, सिर्फ़ इतने घंटे ही खेल पाएंगे ये गेम!


अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?

अश्विन-बटलर विवाद पर राहुल द्रविड़ ने अपना बयान दिया है, क्या आप उनसे सहमत हैं?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर