पाकिस्तान में पानी पीने पर पिट गया पत्रकार, मौलवियों ने कैमरा तोड़ा

Updated on 22 Jun, 2017 at 10:51 am

Advertisement

एक इवेंट के दौरान पानी पीने को लेकर पत्रकारों की पिटाई हो गई। यह वाकया पाकिस्तान के एक मस्जिद का है जहां एक इवेंट को कवर करने गए पत्रकारों पर हमला कर दिया गया। उनका कैमरा भी तोड़ दिया गया।

मस्जिद के मौलवी ने पुलिस के सामने स्वीकार किया कि उन्होंने कैमरा तोड़ा है। रमजान के पवित्र महीने में रोजा नहीं रखने पर पत्रकारों के साथ झड़प हुई है। वे मस्जिद में पानी पी रहे थे।

एक्सप्रेस ट्रिब्यून रिपोर्ट के मुताबिक डिन न्यूज चैनल के कैमरामैन रशीद अजीम और मस्जिद के मौलवियों के बीच विवाद हो गया। रिपोर्ट के मुताबिक रशीद पानी पी रहा था , जिसके बाद एक मौलवी ने उससे सवाल किया गया कि रमजान के पाक महीने में रोजे क्यों नहीं रखे? इसके बाद दोनों के बीच मस्जिद में कहासुनी हो गई।


Advertisement

रशीद ने बताया: “मेरा कैमरा छीन लिया गया औरहाथापाई की गई।” रशीद ने कैमरा तोड़ने का आरोप भी लगाया। डिन न्यूज चैनल की टीम पर पत्थर भी फेंके गए। दोनों पार्टियों ने पुलिस में एक-दूसरे के खिलाफ केस दर्ज करा दिया गया है।

पाकिस्तान में रमजान की पवित्रता के कानून के तहत अगर गुनाह साबित हो जाता है तो तीन महीने की सजा और जुर्माना भी लगाया जा सकता है। पाकिस्तान में इस कानून को एहतराम-ए-रमजान अध्यादेश कहा जाता है। कानून के तहत रमजान के पाक महीने में रोजे के दौरान कुछ भी खाना या पीना अपराध होता है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement