अब जॉर्डन से एफ-16 खरीदेगा पाकिस्तान, अमेरिका से रिश्तों में दरार

author image
Updated on 14 Jun, 2016 at 5:29 pm

Advertisement

पाकिस्तान ने कहा है कि अब एफ-16 फाइटर जेट्स अमेरिका से लेने की बजाए जॉर्डन से खरीदने की कोशिश की जाएगी। गौरतलब है कि पाकिस्तान अमेरिका से आठ एफ-16 जेट्स हासिल करने की कोशिश कर रहा था, लेकिन ओबामा प्रशासन ने इसमें 4500 करोड़ रुपए की रियायत देने से इनकार कर दिया।

माना जा रहा है कि एफ-16 पर डील फाइनल न होने की वजह से अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में दरार भी आई है।

पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज चौधरी ने कहाः

“पाकिस्तान अमेरिका से एफ-16 फाइटर जेट नहीं खरीदेगा। अब जॉर्डन से फाइटर जेट खरीदने की कोशिश की जाएगी।अमेरिका के साथ रिश्तों में तनाव की अहम वजह पाक की चीन से दोस्ती है। पाकिस्तान संप्रभुता जैसे कुछ मुद्दों पर अमेरिका के साथ सहयोग नहीं कर सकता है।”



गौरतलब है कि पाकिस्तान ने एफ-16 डील के लिए अमेरिका से सब्सिडी देने की मांग की थी। इन फाइटर जेट्स की 70 करोड़ डॉलर की डील में पाकिस्तान को पहले सिर्फ 27 करोड़ डॉलर देने थे और बाकी के 43 करोड़ डॉलर अमेरिका ने देने की बात कही थी। लेकिन सांसदों के दबाव की वजह से ओबामा प्रशासन यह डील रद्द कर दी।

फिलहाल पाकिस्तान की आर्थिक हालत ऐसी नहीं है कि वह इन जेट विमानों को अपने पैसे से खरीद सकता। बताया गया है कि इस डील के लिए ऑफर 24 मई तक ही था। इस घटना के बाद पाकिस्तान के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने धमकी देते हुए कहा था कि अमेरिका से एफ-16 नहीं मिलने की स्थिति में दूसरे देश से इसे खरीदा जाएगा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement