जब पूरी पाकिस्तानी टीम को मिला ‘मैन ऑफ द मैच’

Updated on 7 Sep, 2017 at 2:13 pm

Advertisement

क्रिकेट मैच में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए आम तौर पर किसी एक खिलाड़ी को ‘मैन ऑफ द मैच’ का खिताब दिया जाता है, लेकिन एक मैच ऐसा भी हुआ था जब किसी एक, दो या तीन खिलाड़ी को नहीं, बल्कि पूरी टीम को ‘मैन ऑफ द मैच’ दिया गया। जी हां, ऐसा हुआ था 1 सितंबर 1996 में पाकिस्तान और इंग्लैंड के दौरान हुए वन डे मैच में।

पाकिस्तान की जीत के बाद उसके सभी 11 खिलाड़ियों को ‘मैन ऑफ द मैच’ दिया गया और इसी वजह से ये मैच आज तक खास बना हुआ है। 

इस मैच में इंग्लैंड की टीम ने 50 ओवर में 246 रन बनाए, जिसका पीछा करते हुए पाकिस्तान ने 49.4 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर जीत हासिल कर ली। 5 पाकिस्तानी बल्लेबाजो ने 29 से 61 के बीच रन बनाए।

इस मैच की एक खासियत यह भी थी कि दोनों ही टीमों के किसी भी एक खिलाड़ी का प्रदर्शन बहुत शानदार नहीं रहा था। इसी वजह से किसी एक खिलाड़ी को ‘मैन ऑफ द मैच’ के लिए चुनना चयनकर्ताओं के लिए बहुत मुश्किल काम था। इसलिए एक खिलाड़ी की बजाय पूरी टीम को ही ‘मैन ऑफ द मैच’ दे दिया गया। वैसे इसमें कुछ ऐसे खिलाड़ी भी शामिल थे, जिनका प्रदर्शन बेहद खराब था।



वैसे आपको बता दें कि क्रिकेट के इतिहास में ऐसा अनोखा ‘मैन ऑफ द मैच’ दो बार ही दिया गया है। पहली बार 3 अप्रैल 1996 में न्यूज़ीलैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच हुए मैच में, जब विजेता न्यूज़ीलैंड की पूरी टीम को ‘मैन ऑफ द मैच’ घोषित किया गया और दूसरी बार उसी साल सितंबर में इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में भी ऐसा ही हुआ।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement