पीएम मोदी की राह पर चलेगा पाकिस्तान, जानिए क्या है मामला

author image
Updated on 20 Dec, 2016 at 12:03 pm

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की राह पर अब पाकिस्तान भी चल पड़ा है। दरअसल, पाकिस्तानी सीनेट ने देश के सबसे बड़े करेन्सी नोट 5000 रुपए को बंद करने की मांग का प्रस्ताव पास कर दिया है। माना जा रहा है कि काले धन पर अंकुश लगाने के उद्येश्य से पाकिस्तान में इन नोटों को बंद किया जा सकता है। पाकिस्‍तान में नोटबंदी का यह प्रयास भारत के फैसले से प्रेरित है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग(पीएमएल) के सीनेटर उस्‍मान सैफ उल्‍लाह खान ने 5000 रुपए के नोटों को बंद करने का प्रस्‍ताव रखा था जिसे सांसदों ने बहुमत से पास कर दिया।

इन दिनों पाकिस्तान में वर्तमान में 3.4 ट्रिलियन नोट चलन में हैं और इनमें से 1.02 ट्रिलियन नोट 5000 रुपए हैं।


Advertisement

गौरतलब है कि हाल ही में भारत ने 500 और 1000 रुपए के करेन्सी नोटों को बंद कर दिया है और इसके उल्लेखनीय परिणाम देखने को मिल रहे हैं। माना जा रहा है कि इससे न केवल काला धन खत्म होगा, बल्कि भ्रष्टाचार और जाली नोटों की समस्या से भी निजात मिल सकेगी।

भारत के फैसले से प्रेरित होकर वेनेजुएला ने 100 वोलिवर के नोटों को बंद कर दिया था। हालांकि, चलते वहां दंगा फसाद हो गया था जिसके चलते सरकार को फैसला जनवरी तक के लिए टालना पड़ा।

वहीं, दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया में सबसे बड़े नोट 100 डॉलर को बंद करने का फैसला किया गया है। ऑस्ट्रेलिया में 100 डॉलर के 300 मिलियन नोट चलन में हैं। वहां की करेंसी का 92 प्रतिशत हिस्सा 50 और 100 डॉलर के रूप में मौजूद है।

ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने कहा है कि इस फैसले से कालेधन पर रोकथाम में मदद मिलेगी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement