पाक पत्रकारों ने जिस तरह जाधव की मां, पत्नी का अपमान किया वो आपका खून खौला देगा

author image
7:43 pm 27 Dec, 2017

Advertisement

पाकिस्तान में मौत की सज़ा पाए भारत के पूर्व नौसेनाधिकारी कुलभूषण जाधव से मिलने पहुंचीं उनकी मां तथा पत्नी के साथ दुर्व्यवहार किया गया। पाकिस्तानी मीडिया के कई ज़ुबानी हमले उन्हें झेलने पड़े।

 

न्यूज एजेंसी एएनआई ने पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के बाहर का एक विडियो शेयर किया है, जिसमें जाधव की मां, उनकी पत्नी और पाकिस्तान में भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर जेपी सिंह नजर आ रहे हैं। इस विडियो में पाकिस्तानी पत्रकार जाधव की मां और पत्नी से आपत्तिजनक तरीके से सवाल पूछ रहे हैं।


Advertisement

 

इस विडियो में पाकिस्तानी पत्रकारों जाधव की मां और पत्नी से आपत्तिजनक तरीके से सवाल पूछ रहे हैं।

 

एक पत्रकार ने पूछाः “आपके पति ने हज़ारों बेगुनाह पाकिस्तानियों के खून से होली खेली, इस पर क्या कहेंगी…?” कुलभूषण जाधव की मां अवंती जाधव से सवाल किया गयाः “आपके क्या जज़्बात हैं अपने कातिल बेटे से मिलने के बाद…?”

 

पाकिस्तानी मीडिया के इस रवैये कि कड़े शब्दों में निंदा हो रही है। ट्विटर पर लोगों का गूस्सा जमकर फूट रहा है।

 

 

वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहाः

“पाकिस्तानी प्रेस को कई मौकों पर परिवार के काफी पास पहुंचने, उन्हें परेशान करने, धमकाने जैसे अंदाज़ में बात करने तथा कुलभूषण जाधव के बारे में झूठे सवाल करने की इजाज़त दी गई।”

कुलभूषण जाधव के परिवारवालों के साथ जिस तरह पाक मीडिया का रवैया रहा, उसकी खुद कुछ पाकिस्तानी पत्रकारों ने निंदा की है। जाने-माने पाक पत्रकार तहा सिद्दिकी जाधव से मुलाकात करने इस्लामाबाद पहुंचीं थी। वहां उनकी मां और पत्नी से पत्रकारों द्वारा शर्मनाक सवाल कर उनके साथ दुर्व्यवहार पर तहा ने आपत्ति जताई है। इस पूरे घटनाक्रम को उन्होंने परेशान करने वाला बताया है। उन्होंने ट्वीट किया है।

“कई बार हम ऐसी स्टोरीज करते हैं जो हमें परेशान करती हैं, आज का दिन कुछ वैसा ही था। लेकिन मैंने क्या कवर किया, इस वजह से नहीं बल्कि इसलिए कि मेरे कुछ साथी पत्रकारों ने जाधव की मां और पत्नी के साथ कैसा व्यवहार किया। उनका चिल्ला-चिल्लाकर ताने कसना शर्मनाक था।”

 

इसके अलावा कई अन्य पत्रकारों ने भी पाक मीडिया द्वारा जाधव के साथ किए गए व्यवहार को गलत ठहराया। एक ने लिखा पत्रकारिता के नियम को याद रखने की सलाह दी तो एक पत्रकार का कहना है कि पत्रकार अपनी नैतिक जिम्मेदारियां भूल रहे हैं।

 

बता दें कि पाकिस्तान ने जाधव और उनके परिवार की मुलाकात कांच की आड़ में करवाई थी। मिलने से पहले उनके कपड़े तक बदलवाए गए थे और गहने भी उतरवा लिए गए थे।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement