भारत ने 5 साल के पाकिस्तानी बच्चे को उसकी मां से मिलवाया, पाकिस्तान ने कहा- शुक्रिया

author image
Updated on 5 Feb, 2017 at 1:55 pm

Advertisement

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में तनाव के बीच एक अच्छी खबर आई है। भारत ने 5 साल के पाकिस्तानी बच्चे इफ्तिखार अहमद को 11 महीने बाद उसकी मां से मिलवाया।

boy

 

भारतीय अधिकारियों ने जबरन भारत लाए गए 5 साल के पाकिस्तानी बच्चे को वाघा सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स को सौंपा। फिर पाकिस्तान हाई कमीशन के अधिकारियों ने बच्चे को उसकी मां रोहिना कियानी के हवाले कर दिया।

अपने बेटे को वापस पाने की उम्मीद खो चुकी रोहिना ने कहा-

“मैं लंबा इंतजार करते-करते उम्मीदें खो बैठी थी। अपने लाल को वापस पाकर बेहद खुश हूं। इसके लिए मैं दोनों देशों की सरकारों के प्रति एहसानमंद हूं। बेटे को वापस पाना मेरे लिए किसी करिश्मे से कम नहीं है।”

मार्च 2016 में कश्मीर का रहने वाला बच्चे का पिता उसे भारत ले आया था। रोहिना का आरोप है कि उसके पूर्व पति ने उससे झूठ बोला था कि वह उसे शादी में ले जा रहा है।  वह उसे पहले दुबई ले गया और उसके बाद कश्मीर ले गया।


Advertisement

बच्चे को जबरन भारत ले जाने की खबर मां रोहिना को पता लग गई। इस पर इफ्तिखार की मां ने उसकी कस्टडी को लेकर भारत की अदालत में अर्जी दाखिल की। यह पूरा मामला पाकिस्तान हाई कमीशन के सामने भी गया।

यह साबित होने पर कि इफ्तिखार पाकिस्तानी नागरिक है, अदलात ने बच्चे को उसकी मां को सौंपने का फैसला सुनाया।

इस पूरे मामले पर फैसला मई 2016 में ही आ गया था, लेकिन पिछले एक साल से जो दो देशों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है, उसके चलते बच्चे को उसकी मां को नहीं सौंपा जा सका था।

पाकिस्तान ने इस मामले में मदद के लिए भारत का आभार प्रकट किया। भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित ने ट्वीट में लिखा “हम इस मानवीय मामले में भारतीय अधिकारियों की मदद के लिए उनके शुक्रगुजार हैं।”

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement