धड़ल्ले से ऑनलाइन बिक रहे हैं 10, 50 और 200 के नए नोट, हो रही है गैरकानूनी बिक्री

author image
Updated on 22 Apr, 2018 at 10:07 pm

Advertisement

जहां देश के कई शहरों के एटीएम में नकदी का संकट बरपा हुआ है, वहीं पुराने नोटों के साथ अब नए नोट भी ऑनलाइन बिक रहे हैं।

 

पूर्ण रूप से अवैध होते हुए भी 1 रुपए, 10 रुपए, 50 रुपए व 200 रुपए के नए नोट धड़ल्ले से अपनी कीमत से अधिक दामों में ऑनलाइन बेचे जा रहे हैं।

 

 

जी हां, ebay.in पर 10 रुपए के 100 नोट 1620 रुपए में बिक रहे हैं।

 

 

वहीं 200 रुपए के नए 100 नोटों की गड्डी की ऑनलाइन कीमत 26,000 रुपए है।

 

 

उधर 1 रुपए के 100 नए नोट 599 रुपए रुपए में उपलब्ध हैं।


Advertisement

 

 

 

इन नोटों की असलियत की गारंटी के लिए साइट ने लिखा है- ये नोट आरबीआई के नए गवर्नर उर्जित आर. पटेल के हस्ताक्षर वाले हैं। एक रुपए के नोट के लिए लिखा है कि ये पूर्व वित्त सचिव शक्तिकांत दास के हस्ताक्षर वाले हैं।

ये नोट अधिक दामों में तो बिक ही रहे हैं साथ ही इन्हें आर्डर करते समय आपको 50 से 100 रुपए के बीच शिपिंग चार्ज अलग से देना होगा।

 

 

बता दें कि अभी 10 रुपए, 50 रुपए व 200 रुपए के नए नोट ज्यादातर लोगों की पहुंच से दूर ही हैं। बैंक कर्मियों का कहना है कि 10, 50 और 200 रुपए के नए नोट ब्रांच में सीमित मात्रा में ही आते हैं। फिर कुछ लोगों ने पहले से ही अपने बैंककर्मी दोस्तों से सिफारिशें कर रखी होती है कि जैसे ही ये नोट आये उन्हें बता देना। इसलिए ये नोट आम जनता को नहीं मिल पाते। इसीलिए इन नोटों के बंडल धड़ल्ले से ऑनलाइन बिक रहे हैं, जो गैरकानूनी है।

इस पूरे मसले पर ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष एसएस सिसोदिया का कहना है कि रुपए लीगल टेंडर हैं। लीगल टेंडर को कोई भी सरकार की इजाजत के बिना बेचना तो दूर उसे नष्ट भी नहीं कर सकता। यह अपराध की श्रेणी में आता है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement