1951 के दौर में कुछ इस तरह ऑडिशन दिया करती थीं लडकियां, देखें तस्वीरें

author image
Updated on 28 Feb, 2018 at 5:03 pm

Advertisement

बॉलीवुड वह जगह है जहां कई अपनी किस्मत आजमाने पहुंचते हैं। अभिनेता-अभिनेत्री बनने की चाह में एक के बाद एक कई ऑडिशन देते हैं, लेकिन सफल उनमें से कुछ ही हो पाते हैं। ऐसे ही भारत की ज्यादातर लड़कियां एक्ट्रेस बनने का सपना लेकर मायानगरी मुंबई पहुंचती हैं। जो नया शख्स एक्टिंग फील्ड में कदम रखना चाहता है, उसे ऑडिशन से गुजरना ही पड़ता है। ऐसा अब भी होता है और आज से 60 साल पहले भी यही होता था।

50 और 60 के दशक में भी लड़कियां फिल्मों में अपनी किस्मत आजमाने के लिए स्क्रीन टेस्ट देती थीं, लेकिन उस वक्त स्क्रीन टेस्ट का तरीका इतना आसान नहीं होता था।

यहां हम आपको 1951 के समय के स्क्रीन टेस्ट की कुछ तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं। ये तस्वीरें लाइफ मैगजीन के फोटो जर्नलिस्ट जेम्स बुरके द्वारा ली गई हैं। इन तस्वीरों में डायरेक्टर अब्दुल राशिद करदार अपनी एक फिल्म के लिए ऑडिशन लेते हुए नजर आ रहे हैं। ये तस्वीरें बॉलीवुड ऑडिशन की सच्चाई बयां करती हैं।  जितना आसान आप ऑडिशन देना समझते हैं, असल में वो उतना है नहीं।

 

1.  फेस प्रोफाइल टेस्टिंग !

 

 

 

2. काले कोट में खड़े साहब परफॉर्मेंस से खुश नजर आ रहे हैं!

 

 

 

3. क्या उस समय चेंजिंग रूम्स नहीं हुआ करते थे !!!

 

 

 

4. शॉर्ट ड्रेस में ऑडिशन

 

 


Advertisement

 

 

5.  डायरेक्टर  करदार ने भारतीय फिल्म इंडस्ट्री से कई कलाकारों को इंट्रोड्यूस करवाया

 

 

6.  स्क्रीन टेस्ट का ये तरीका आपको थोड़ा अटपटा लग सकता है!

 

7. बॉडी लैंग्वेज सब बताती है!

 

 

 

8. ये मुस्कान कुछ कहती है!

 

 

9. आउटफिट की जांच!

 

 

10. ये क्या है, कुछ भी मतलब !

 

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement