ओला कैब ड्राइवर ने पेश की ईमानदारी की मिसाल, यात्री को लौटाए रुपयों से भरा बैग

Updated on 5 Jan, 2017 at 4:38 pm

Advertisement

तमाम असंवेदनशील खबरों के बीच कभी-कभी मिसाल कायम करने वाली कहानियां भी मिल ही जाती हैं। यह घटना है कोलकाता की, जहां एक टैक्सी ड्राइवर ने भी इमानदारी की नई मिसाल पेश की है।

रुपयों से भरा बैग कैब में भूल गए थे हर्षवर्धन गोयल।

जी हां, ओला कैब चलाने वाले अभितेश प्रसाद एक ऐसे ही शख्स हैं, जिनके बारे में कहा जा सकता है कि ऐसे लोगों की वजह से ईमानदारी के प्रति लोगों का भरोसा कायम है। मंगलवार की रात को जब कोलकाता के व्यवसायी हर्षवर्धन गोयल अभितेश की ओला कैब में चले थे, तब उन्हें अंदाजा भी नहीं था कि वह रुपयों से भरा अपना बैग इसमें छोड़कर चले जाएंगे। हावड़ा में उन्होंने कैब छोड़ दिया और अपने गंतव्य के लिए निकल गए। बाद में जब अभितेश की नजर बैग पर पड़ी तब वह उहापोह में थे। उन्होंने बैग को बिना खोले हावड़ा थाना में जमा कर दिया।

बाद में पुलिस अधिकारियों ने जब बैक की तलाशी ली तो उसमें उन्हें 71 हजार रुपए मिले। पुलिस ने तफ्शीस में पाया कि यह बैग हर्षवर्धन गोयल का था। उनसे सम्पर्क कर पुलिस ने उन्हें यह बैग वापस लौटा दिया। हर्षवर्धन गोयल ने अभितेश को पुरस्कारस्वरूप कुछ राशि देने की कोशिश की तो उन्होंने लेने से मना कर दिया।



अभितेश प्रसाद (दाएं) हर्षवर्धन गोयल के साथ।

हर्षवर्धन का कहना था कि कोलकाता में शहर में अब भी ऐसे ढेर उदाहरण देखने को मिलते हैं और यही वजह है कि शहरियों पर लोगों का विश्वास बना हुआ है।

साभारः Suno


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement