तो क्या यूरोप और अमेरिका पर हमला करेगा उत्तर कोरिया ?

author image
Updated on 22 Dec, 2016 at 1:56 pm

Advertisement

क्या उत्तर कोरिया अब यूरोप पर हमले की योजना रहा है? यह आशंका उठ खड़ी हुई है कुछ तस्वीरों के सामने आने के बाद। हाल ही में उपग्रहों द्वारा खींची गई तस्वीरों से पता चला है कि उत्तर कोरिया अब यूरोप और अमेरिका पर हमला करने में सक्षम है।

डेली मेल की इस रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु चालित पनडुब्बियों को समुद्र में हमला करने के लिए भेज सकता है। उपग्रहों से ली गईं ये तस्वीरें सिंपो दक्षिण शिप यार्ड की हैं। हालांकि, अब तक यह साफ नहीं हो सका है कि इस पनडुब्बी को बनाने के पीछे उत्तर कोरिया की क्या मंशा है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तर कोरिया की यह परमाणु पनडुब्बी वियत यूनियन के गोल्फ क्लास पनडुब्बी सिस्टम के समान है। यही नहीं, उत्तर कोरिया की केएन-08 मिसाइल की रेन्ज करीब 12 हजार किलोमीटर तक हो सकती है। इस वजह से यूरोप सहित अमेरिका पर भी खतरे के बादल मंडरा सकते हैं।


Advertisement

गौरतलब है दक्षिण कोरिया लंबे समय से कहता रहा है कि उत्तर कोरिया ऐसे मिसाइलों का निर्माण करने में सक्षम है, जिसकी जद में न केवल यूरोप, बल्कि अमेरिका भी होंगा।

डेली मेल की रिपोर्ट में उत्तर कोरिया पर शोध करने वाले जोसेफ बर्मज के हवाले से बताया गया है कि इस पनडुब्बी को करीब तीन साल से विकसित किया जा रहा है। और अब लगता है कि यह समुद्र में घुसने के लिए तैयार है। जोसेफ कहते हैं कि उत्तर कोरिया के बारे में कुछ अनुमान लगाना मुमकिन नहीं है, लेकिन ऐसा कहा जा सकता है कि यह पनडुब्बी अब बैलिस्टिक मिसाइल के इस्तेमाल के लिए तैयार है।

उत्तर कोरिया ने हाल के दिनों में एक के बाद एक कई मिसाइलों के परीक्षण किए हैं, जिनमें कुछ आंशिक रूप से सफल रहे थे। उत्तर कोरिया ने हाल ही में हाइड्रोजन बम का परीक्षण भी किया था।

माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को पाकिस्तान और चीन की परोक्ष मदद मिली हुई है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement