…तो अमेरिका पर हमला कर देगा उत्तर कोरिया!

author image
Updated on 9 Aug, 2017 at 11:28 am

Advertisement

हाल ही में परमाणु शक्ति से लैस हुए उत्तर कोरिया ने दावा किया है वह प्रशांत क्षेत्र में अमेरिकी द्वीप गुआम पर मिसाइल दागने पर विचार कर रहा है। उत्तर कोरिया का यह दावा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की धमकी के जवाब में किया गया है।

माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया के मिसाइलों की जद में गुआम द्वीप है।

मध्यम से लंबी दूरी तक के मिसाइलों से इस स्थान को निशाना बनाया जा सकता है। उत्तर कोरिया की सरकारी न्यूज एजेन्सी केसीएनए के मुताबिक, गुआम पर चौतरफा हमला किया जाएगा। इसमें स्वदेश में निर्मित मिसाइल ह्वॉसोंग-12 का इस्तेमाल किया जा सकता है। उत्तर कोरिया के इस दावे के बाद एक बाऱ फिर स्थिति सुलझने के बजाए बिगड़ती हुई दिख रही है।

गुआम द्वीप पर अमेरिकी सेना तैनात है। यहां अमेरिका ने अपने बमबर्षक विमानों का ठिकाना बना रखा है।


Advertisement

उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच पुरानी अदावत है। उत्तर कोरिया के द्वारा एक के बाद एक कई परमाणु परीक्षणों के बाद संयुक्त राष्ट्र ने उस पर प्रतिबंध लगा दिया था। अमेरिका ने भी उस पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगा रखे हैं। वहीं, उत्तर कोरिया का कहना है कि यह उसकी संप्रभुता का हिंसक उल्लंघन है और इसके लिए अमेरिका को क़ीमत चुकानी होगी।

उत्तर कोरिया का दावा है कि वह परमाणु शक्ति से लैस है और उसके परमाणु आयुध से युक्त मिसाइल अमेरिका को भी निशाने पर ले सकते हैं। अमेरिकी अखबार भी उत्तर कोरिया के इस दावे की पुष्टि करते हैं।

हालांकि, ऐसा मानने वालों की भी कमी नहीं है कि यह अमेरिका के उसी प्रोपगैंडा वॉर का नया प्रारूप है, जिसकी जद में सद्दाम हुसैन, गद्दाफी आदि आ चुके हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement