NIT श्रीनगर के कई गैर-कश्मीरी छात्र कर रहे हैं घर वापसी

author image
1:37 pm 11 Apr, 2016

Advertisement

NIT श्रीनगर में तिरंगा लहराने और भारत माता की जय कहे जाने के बाद उपजे विवाद की वजह से कई गैर-कश्मीरी छात्र अपने गृहनगरों को रवाना हो गए हैं। बताया गया है ऐसे छात्र जो अपने घर जाना चाहते थे, NIT श्रीनगर छोड़ रहे हैं।

इस रिपोर्ट में फिलहाल ऐसे छात्रों की संख्या 55 बताई जा रही है, लेकिन कहा गया है कि घर जाने की इच्छा रखने वाले छात्रों की संख्या अधिक हो सकती है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है कि इन छात्रों को बाद में परीक्षा देने की अनुमति दी जाएगी।

NIT श्रीनगर के रजिस्ट्रार फयाज मीर ने बतायाः

“शुक्रवार को छह छात्रों को उनके घर भेजा गया। शनिवार को दो और छात्रों को उनके घर भेज दिया गया। हमें छात्रों की जो सूची मिली है, उसमें सैकड़ों नाम हैं।”


Advertisement

इस बीच बताया गया है कि आज NIT श्रीनगर का बोर्ड ऑफ गवर्नर्स बैठक करेगा जिसमें संस्थान के छात्रों द्वारा उठाए गए मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। इस बैठक में एक संयुक्त सचिव स्तर का अधिकारी भी हिस्सा लेगा, जिसे मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने भेजा है।



गौरतलब है कि NIT श्रीनगर में विवाद पिछले 31 मार्च की रात को शुरू हुआ था, जब टी20 क्रिकेट विश्वकप के फाइनल में भारत की हार पर कश्मीरी छात्रों ने पाकिस्तान समर्थित नारे लगाए थे और पाकिस्तान का झंडा लहराया था।

इसके जवाब में गैर-कश्मीरी छात्रों ने तिरंगा लहराया और भारत माता की जय के नारे लगाए थे।

बाद में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे गैर-कश्मीरी छात्रों पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बर्बतापूर्वक लाठीचार्ज किया था, जिसमें 125 से अधिक छात्र घायल हो गए थे। इसके बाद से ही ये छात्र कैम्पस में तिरंगा लहराने और घर वापस जाने की मांग कर रहे हैं।

फिलहाल NIT श्रीनगर कैम्पस को सेना की छावनी में तब्दील कर दिया गया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement