अब रात में चेक नहीं होगा आपका रेल टिकट, रात 10 से सुबह 6 बजे तक नहीं होगी टिकट जांच

author image
Updated on 4 Feb, 2017 at 1:55 pm

Advertisement

रात के सफर में अक्सर ऐसा होता है कि आपको जैसे ही नींद आने लगती है वैसे ही टीटीई टिकेट चेक करने आ जाते हैं और आपकी नींद खराब हो जाती है, लेकिन अब ऐसा कुछ नहीं होगा।

रेल यात्रियों के रात के सफर को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने आदेश जारी कर कहा है कि अब रात की ट्रेनों में टिकट की जांच रात के 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नहीं की जाएगी। आरक्षित बोगियों, स्लीपर एवं एसी श्रेणियों में इस व्यवस्था को लागू किया गया है।

रेलवे बोर्ड ने अपने आदेश में कहा है कि रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच ट्रेन में यात्रियों के टिकट की जांच नहीं की जाए। हालांकि, अगर ट्रेन में यात्री रात 10 बजे के बाद सवार होता है तो उसके टिकट की जांच की जा सकती है। रात में टिकट की चेकिंग तभी की जा सकेगी जब ट्रेन रात को रवाना हो रही हो, या विजिलेंस विभाग को बिना टिकट यात्रा कर रहे यात्रियों के कोच में होने का शक हो। इस बदलाव की जानकारी देते हुए रेलवे बोर्ड ने बताया है कि इस आदेश का मकसद यह है कि रात के वक्त ट्रेन में यात्रियों को परेशान न किया जाए।



CPRO नीरज शर्मा ने बताया कि रात में लंबी दूरी के सफर के दौरान अक्सर अलग-अलग टीटीई लोगों को जगाकर कई बार टिकट चेक करते थे। इससे यात्रियों के आराम में बाधा पहुंचती थी। इससे देखते हुए यह फैसला लिया गया है। हालांकि, इस दौरान विजिलेंस और मैजिस्ट्रेट चेकिंग पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। संदेह होने की स्थिति पर विजिलेंस और आरपीएफ के अधिकारी रात को भी आरक्षित श्रेणी के कोच में यात्रियों की टिकट और सामान की जांच कर सकते हैं।

रेलवे ने इस आदेश को 27 जनवरी को पारित किया था, जिसे देश भर के सभी जोन में भेज दिया है। यह नया नियम 3 फरवरी से लागू हो चुका है। इसके आदेश भी सभी टीटीई और अन्य स्टाफ को दे दिए गए हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement