क्रिकेट खेलने की इतनी जल्दी थी कि राष्ट्रगान के लिए खड़े ही नहीं हुए

Updated on 10 Nov, 2017 at 5:21 pm

Advertisement

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ दूसरा टी 20 मैच में डेब्यू करने वाले 23 वर्षीय गेंदबाज़ मोहम्मद सिराज के लिए यह किसी सपने के सच होने जैसा था। तभी तो जब मैच शुरू होने से पहले वह टीम इंडिया के साथ राष्ट्रगान के लिए स्टेडिमय में आए तो अपनी भावनाओं को काबू न कर सके और उनकी आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े।

हालांकि, आपको जानकर हैरत होगी कि त्रिवेन्द्रम T-20 क्रिकेट मैच के दौरान राष्ट्रगान हुआ ही नहीं।

त्रिवेन्द्रम T-20 क्रिकेट मैच के दौरान हड़बड़ी में गड़बड़ी का बड़ा उदाहरण देखने को मिला है। यहां के ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल ग्राउंड में केरल क्रिकेट एसोसिएशन (केसीए) ने भारत और न्यूजीलैंड के बीच 7 नवंबर को पहला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच आयोजित किया था।


Advertisement

जैसा कि नियम है कि खेल शुरू होने से पहले दोनों देश की टीम्स को अपने-अपने राष्ट्रगान के लिए खड़ा होना था, लेकिन इस रिपोर्ट के मुताबिक संयोगवश यहां राष्ट्रगान हुआ ही नहीं और टॉस के ठीक तुरंत बाद मैच शुरू कर दिया गया।

आयोजकों का ध्यान जब इस बड़ी गलती की तरफ आकर्षित किया गया है, तब उन्होंने कहा है कि दिन भर आपाधापी की वजह से यह गलती हो गई। 7 नवंबर को यहां पूरे दिन लगातार बारिश होती रही थी। यही वजह है कि मैच के ओवरों में कटौती कर दी गई और 8-8 ओवरों का मुकाबला कराया गया।

केरल क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव जयेश जॉर्ज ने मीडिया से कहाः

“हां, यह हमारी तरफ से गलती हुई। हम सभी मैदान पर थे और बारिश के बाद मैच शुरू कराने की जल्दी में थे। हम राष्ट्रगान करना भूल गए। यह हमारी तरफ से एक गंभीर चूक है और मैं देश से माफी मांगता हूं। ऐसा फिर कभी नहीं होगा।”

इस मैच में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड पर 6 रनों से रोमांचक जीत हासिल की थी। हालांकि, अब चर्चा राष्ट्रगान के लिए खिलाड़ियों के खड़े न होने को लेकर हो रही है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement