Advertisement

सांवला होने के फायदे भी हैं, आप बचे रहेंगे स्किन कैंसर जैसी बीमारियों से!

9:52 am 14 Nov, 2017

Advertisement

गोरे हैं तो खूबसूरत हैं! इसे हमारे समाज ने मान लिया है, जबकि भारतीय अमूमन सांवले होते हैं, ये सच्चाई है। लिहाजा लोग गोर होने के लिए तुले पड़े हैं और जाहिर है फेयरनेस क्रीम का बाजार सर्दी हो या गर्मी, ‘गरम’ ही रहता है।

हालांकि, एक नया शोध आपको चौंका सकता है। शोध के मुताबिक, आप अगर सांवले हैं तो आप स्किन कैंसर जैसी बीमारियों से सुरक्षित हैं। वैज्ञानिकों का दावा है कि चूंकि भारत के लोग सांवले होते हैं, इसलिए यहां स्किन कैंसर का ख़तरा बहुत कम होता है, लेकिन अगर आप गोरे होने के चक्कर में फेयरनेस क्रीम का लेप चेहरे पर लगाते हैं, तो फिर भगवान ही मालिक है!

जी हां! विशेषज्ञों की मानें तो गोरा बनाने के नाम पर बाज़ार में बिकने वाली क्रीम का इस्तेमाल करने के कई भयानक परिणाम हो सकते हैं। इस बावत बीते शुक्रवार को इंदौर में तीन दिवसीय पिगमेंट्रीकॉन-2017 प्रोग्राम के दौरान विशेषज्ञों ने ऐसा कहा। उन्होंने कहा कि स्टेरॉयड्स क्रीम लगाने से त्वचा की बीमारी हो सकती है।

पिगमेंट्री डिसऑर्डर सोसायटी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में विशेषज्ञों ने दावा किया कि भारतीयों की त्वचा दुनिया के अन्य देशों के लोगों की त्वचा के मुकाबले कहीं ज्यादा स्वस्थ हैं। लिहाजा यहां स्कीन कैंसर के मरीज न के बराबर हैं। बता दें कि कार्यक्रम में लगभग 500 से ज्यादा विशेषज्ञों ने भाग लिया था।


Advertisement

पिगमेंट्री डिसआर्डर सोसायटी ऑफ़ इंडिया की अध्यक्ष डॉ. रश्मि सरकार ने बतायाः

“नुकसानदेह क्रीम उत्पादकों के विरुद्ध हमारी टीम शासन स्तर पर एक्टिव है। अभी तक लगभग दर्ज़न भर से ज्यादा प्रोडेक्ट्स के बारे में हम लोग रिपोर्ट कर चुके हैं।”

कॉन्फ़्रेंस आर्गेनाइजिंग सेक्रेटरी डॉ. नरेंद्र गोखले और डॉ. मीतेश अग्रवाल के अनुसार सफ़ेद दाग़ को लेकर लोगों में जागरूकता का अभाव है, लेकिन अब लेज़र तकनीक से इसका इलाज भी संभव है। अभी इसके लिए सर्ज़िकल तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है।

कार्यक्रम के पहले दिन पहले दिन सफ़ेद दाग़, डार्क सर्कल समेत कई तरह के स्किन प्रॉब्लम पर चर्चा हुई और लेज़र सर्जरी पर लाइव डेमो भी दिखाया गया। इस कार्यक्रम में चिकित्सकों ने बताया कि भारतीय लोगों की त्वचा में एक ख़ास तरह का गुण होता है, जिसके कारण चेहरे पर झुर्रियां देर से बनती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement