हिंदी बोलने में शर्म महसूस करने वालों को इस हास्य कलाकार ने दिया मुंहतोड़ जवाब

author image
9:25 pm 27 Nov, 2016

Advertisement

अन्य भाषाओं की तरह अंग्रेजी एक भाषा ही है, लेकिन हमारे देश में इस भाषा का इस्तेमाल करने के मायने कुछ अलग हैं। यहां अगर कोई अंग्रेजी में बातचीत करता है, तो उसे ‘कूल’ कहा जाता है। यहां तक कि उसे पढ़े-लिखे और ऊंचे दर्जे के होने का तमगा भी दे दिया जाता है।

आज भी हमारे देश में ऐसे लोग हैं, जिन्हें हिंदी बोलने में शर्म आती है। वे हिंदी बोलने से इसलिए परहेज करते हैं, क्योंकि उन्हें इस बात का डर होता है कि कहीं उनकी ‘क्लास’ को नुकसान न पहुंच जाए।

अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल करना गलत नहीं है, लेकिन यह दावा करना कि यह किसी के कैरेक्टर को सभ्य बनाता है, गलत है। इसी मुद्दे को व्यंग्य के साथ बखूबी सामने रखा है, कॉमेडियन निशांत तंवर ने।

अपने इस विडियो में निशांत बताते हैं कि कैसे कुछ लोग 10 दिन के लिए देश से बाहर जाने के बाद अपनी ही भाषा को बोलने में असहज महसूस करने लगते हैं।



निशांत तंवर ने उन लोगों को आईना दिखाने की कोशिश की है जिन्हें हिंदी के इस्तेमाल करने, इसे बोलने में शर्म महसूस होती है।

यहां देखिए विडियो:


Advertisement

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement