Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

1963 तक बंगाल के आश्रम में थे नेताजी सुभाष चंद्र बोस, नाम था के. के. भंडारी ?

Published on 30 May, 2016 at 2:05 pm By

केन्द्र सरकार द्वारा जारी फाइलों से संकेत मिलता है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस वर्ष 1963 तक उत्तर बंगाल के एक आश्रम में के.के. भंडारी के छद्म नाम से रहते थे।

इस फाइलों से पता चलता है कि इस संबंध में शीर्ष स्तर पर बातचीत होती रही है।

हालांकि, नेताजी की मौत के रहस्य से पर्दा उठाने के लिए बनाए गए मुखर्जी आयोग ने इस बात को नहीं माना था कि भंडारी ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस थे।


Advertisement

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि मामले की शुरुआत शालमुरी आश्रम के सचिव रमानी रंजन दास के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को चिट्ठी लिखने से हुई।

इस संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय के टॉप सीक्रेट नोट में भी भंडारी के नाम का जिक्र हुआ। कई चिट्ठियों का आदान-प्रदान भी हुआ। हालांकि, यह साफ नहीं हो सका है कि आखिर किन वजहों से नेताजी से जुड़ी जांच के मामले में बार-बार भंडारी का नाम लिया जाता रहा।



वर्ष 2000 में मुखर्जी आयोग के दबाव के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय ने भंडारी के मुद्दे से जुड़ी फाइलें मुखर्जी कमीशन को सौंपी थी।

उस दौर में जब लोगों को पता चला कि वर्ष 1963 में नेताजी कथित तौर पर शालमुरी आश्रम में रह रहे थे, तब हचलल मची थी। हालांकि, मुखर्जी आयोग का कहना था कि भंडारी नेताजी नहीं थे।


Advertisement

इसके बावजूद लोगों का मानना था कि के.के. भंडारी ही नेताजी थे।

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें People

नेट पर पॉप्युलर