…तो नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत विमान दुर्घटना में नहीं हुई !

author image
Updated on 17 Jul, 2017 at 9:17 pm

Advertisement

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत कब हुई इस बात का रहस्य अब तक सुलझ नहीं सका है। आमतौर पर मान्यता है कि नेताजी की मौत हवाई दुर्घटना में हुई थी, लेकिन अब एक फ्रेन्च सीक्रेट सर्विस रिपोर्ट के आधार पर कहा जा रहा है कि नेताजी की मौत हवाई दुर्घटना में नहीं हुई थी।

यह दावा पेरिस में रहने वाले भारतीय मूल के इतिहासकार जेबीपी मोरे ने किया है।

मोरे का कहना है कि फ्रेन्च सीक्रेट सर्विस की रिपोर्ट में नहीं लिखा है कि बोस की मौत हवाई दुर्घटना में हुई थी। मोरे कहते हैं कि नेताजी भारत-चीन सीमा से जिंदा बच निकले थे और 1947 तक जिंदा भी थे और उनके ठिकाने के बारे में भी खबर थी। मोरे ने रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया कि वह जापान की हिकारी किकान के सदस्य होने के साथ-साथ इंडियन इंडिपेंडेंस लीग के पूर्व मुखिया भी थे।

ब्रिटिश सरकार व जापान ने दावा किया था कि नेताजी की मौत टोकियो जाते समय विमान दुर्घटना में हो गई। फ्रांस सरकार ने इस पर चुप्पी साध रखी थी। अब कई इतिसासकार कहते हैं कि इस बात को गंभीरता से लिए जाने की जरूरत है।



हवाई दुर्घटना में नेताजी की मौत हुई या नहीं, इस सवाल का जवाब खोजते हुए भारत में अलग-अलग सरकारों ने अब तक तीन कमेटियां गठित की है। वर्ष 1956 में गठित शहनवाज कमेटी और वर्ष 1970 में बनी खोसला आयोग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र की मौत 18 अगस्त 1945 को जापान के ताइपे के ताईहोकु एयरपोर्ट पर विमान दुर्घटना में हो गई।

वहीं, वर्ष1999 में गठित मुखर्जी आयोग की रिपोर्ट में कहा गया कि उनकी मौत विमान दुर्घटना में नही हुई थी। हालांकि, सरकार ने मुखर्जी आयोग के दावे को खारिज कर दिया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement